Aug 10 2022 / 10:19 AM

महाराष्ट्र में बड़ा उलटफेर- देवेंद्र फडणवीस फिर बने सीएम, अजित पवार डिप्टी सीएम

मुंबई। महाराष्ट्र की सियासत में रातों रात सबकुछ बदल गया। कहां आज उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री बनने की खबरें आनी थीं लेकिन बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस ने एनसीपी के अजीत पवार के साथ मिलकर मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ले भी ली है। सुबह के 9 बजने से पहले ये शपथग्रहण हो चुका था। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने दोनों को शनिवार की सुबह शपथ दिलाई। भाजपा को शरद पवार की पार्टी एनसीपी ने समर्थन दिया है।

राज्य की नई सरकार में राकांपा प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार किंगमेकर की भूमिका में रहे। फडणवीस के साथ ही अजित ने राज्य के उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। अजीत पवार ने शपथ लेने के बाद कहा कि पिछले कई दिनों से कांग्रेस और शिवसेना के साथ हमारी बात चल रही थी लेकिन बातचीत किसी नतीजे पर नहीं पहुचंने के कारण और महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन को समाप्त करने के लिये हमने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनायी है।

फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने स्पष्ट जनादेश दिया था। हमारे साथ लड़ी शिवसेना ने उस जनादेश को नकार कर दूसरी जगह गठबंधन बनाने का प्रयास किया। महाराष्ट्र को स्थिर शासन देने की जरूरत थी। महाराष्ट्र को स्थायी सरकार देने का फैसला करने के लिए अजित पवार को धन्यवाद।

वहीं इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र का दोबारा सीएम बनने पर बधाई दी है। पीएम ने कहा, देवेंद्र फडणवीस जी और अजित पवार जी को क्रमश: मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर बधाई। मुझे विश्वास है कि वे महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए लगन से काम करेंगे।

बता दें कि इससे पहले महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की बैठक में मुख्यमंत्री के नाम पर कोई अंतिम फैसला नहीं हो पाया था। हालांकि, शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा था कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनने को तैयार हैं। इससे पहले तीनों पार्टियों की बैठक से निकलने के बाद शरद पवार ने कहा था कि जहां तक मुख्यमंत्री की बात है, उस पर कोई दोराय नहीं है। उद्धव ठाकरे को ही सरकार को लीड करना चाहिए। लेकिन शनिवार सुबह महाराष्ट्र के राजनीति की तस्वीर बदल गई।

Share with

INDORE