Aug 10 2022 / 12:59 AM

नतीजों से पहले EC पहुंची बीजेपी, धर्मेंद्र प्रधान ने कहा-सपा सुप्रीमो की भाषा धमकी जैसी

नई दिल्‍ली। उत्‍तर प्रदेश में ईवीएम को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच भाजपा के प्रतिनिध‍िमंडल ने बुधवार को निर्वाचन आयोग से मुलाकात की। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हम चुनाव आयोग से मिले हैं। उत्‍तर प्रदेश में हार के डर से सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव हताश हैं। उन्होंने मंगलवार को जिस भाषा का इस्तेमाल किया वह लोकतंत्र के लिए बेहद खतरनाक है। भाजपा नेता ने सपा प्रमुख पर निशाना साधते हुए कहा कि आप (अखिलेश यादव) इस चुनाव प्रक्रिया से ही जीते हैं इसलिए आपको जनादेश स्वीकार करना चाहिए।

गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने मंगलवार की शाम को उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा पर प्रशासनिक मशीनरी के जरिए मतों की चोरी कराने का आरोप लगाया। उन्‍होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के अधिकारी अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दे रहे हैं कि जहां भाजपा हार रही है उन विधानसभा सीटों पर मतगणना धीमी कर दी जाए।

इसके साथ ही अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि ये लोकतंत्र का आखिरी चुनाव है। इसके बाद तो लोकतंत्र के लिए जिस तरह से आजादी के लिए लड़ाई लड़नी पड़ी। ठीक उसी तरह से आपको और हमको क्रांति करनी पड़ेगी। अखिलेश ने कहा कि नौजवानों से मेरी अपील है कि कम से कम तीन दिन लोकतंत्र के अखंड प्रहरी बनकर ईवीएम और अपने मतों को बचाएं। अब भाजपा अखिलेश के क्रांति वाले बयान पर हमलावर है। भाजपा ने बुधवार को अखिलेश के क्रांति वाले बयान को लेकर ही निर्वाचन आयोग के समक्ष शिकायत दर्ज कराई।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि अखिलेश यादव ने जिस भाषा का प्रयोग किया उससे साफ है कि वह हार के डर से घबरा गए हैं।धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि उन्होंने संविधानिक प्रक्रिया और अधिकारियों को चुनौती देने की कोशिश की। अखिलेश यादव जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह धमकी की तरह है। वह लोकतंत्र के लिए खतरनाक है। उन्होंने कहा कि सभी को सच पता है कि वाराणसी में क्या हुआ था? EVM सभी पार्टियों के प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर के बाद स्ट्रांग रूम में रखी गई हैं। EVM की निगरानी सीसीटीवी से हो रही है। चुनाव आयोग किसी भी मुद्दे पर संज्ञान लेने के लिए स्वतंत्र है।

निर्वाचन आयोग के अधिकारियों से मिलने वालों में भाजपा प्रतिनिधिमंडल में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी शामिल थे। वहीं यूपी के अतिरिक्त मुख्य चुनाव आयोग अधिकारी बीडी राम तिवारी ने कहा है कि मतगणना की पूरी प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद पांच VVPAT की पर्चियों के मिलान के लिए भी काउंटिंग की जाएगी।

Share with

INDORE