इंदौर में फिर दो जगह पकड़ा गया आईपीएल मैचों का ऑनलाइन अवैध सट्टा, 5 आरोपी क्राइम ब्रान्च की गिरफ्त में


इंदौर। इंदौर में आईपीएल मैचों के सट्टे का अवैध कारोबार जारी है। क्राइम ब्रांच ने फिर आईपीएल मैचों के ऑनलाइन अवैध सट्टे के सो अलग अलग मामले पकड़े है और 5 आरोपी गिरफ्तार किए हैं।

पुलिस उपमहानिरीक्षक हरिनारायणाचारी मिश्र, पुलिस अधीक्षक मुख्यालय सूरज वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम गुरूप्रसाद पाराशर के निर्देशन में यह कार्रवाई की गई।
पहली कार्रवाई मुखबिर की सूचना पर थाना अन्नपूर्णा क्षेत्रांतर्गत वैशाली नगर कॉलोनी में दबिश दी गई। यहां महाकालेश्वर एवेन्यू की चतुर्थ मंजिल फ्लेट क्रमांक 401 में कुछ लोग फोन कॉल के जरिये ग्राहकों से हार जीत के दाव के लिये पैसों की बातचीत कर रहे थे तथा जिन ग्राहकों के सट्टे के लिये पैसें तय हो जा रहे थे उनका हिसाब किताब डायरी में लिखकर लैपटॉप के सिस्टम में सट्टे की बेसाईट पर अपडेट किया जा रहा था। मौके से 03 लोगों को गिरफ्तार किया जिनके नाम 1. चिराग पिता पृथ्वीराज जैन उम्र 31 वर्ष निवासी ॐ विहार कॉलोनी थाना एरोड्रम इंदौर 2. आदित्य शर्मा पिता विजय शर्मा उम्र 24 वर्ष निवासी अमन रीजेंसी एयरपोर्ट रोड इंदौर और 3. अमन तिवारी पिता राजेश तिवारी उम्र 23 वर्ष निवासी 177 अम्बिकापुरी एक्सटेन्सन 60 फीट रोड इंदौर है। का होना बताए। एक आरोपी पूर्व में भी आईपीएल सट्टा के मामले में वर्ष 2019 में थाना एरोड्रम में पकड़ा जा चुका है।

आरोपीगण 12-13 अक्टूबर की दरमियानी रात रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर और कोलकाता नाईट राइडर्स के मध्य खेले गये आईपीएल मैच पर सट्टे भाव तय कर अवैध कारोबार कर रहे थे। इसके सरगना ने कुछ माह पूर्व ही फ्लेट खरीदा था जिसमें वह अवैध रूप से आईपीएल मैचों के सट्टे पर हार जीत के दाव लगाने का अवैध कारोबार कर रहे थे।आरोपियों के विरूद्ध थाना अन्नपूर्णा में धारा 3/4 पब्लिक गेंम्बलिंग म0प्र0 एक्ट 1976, और धारा 66 सूचना प्रोधोगिकी अधिनियम के तहत मुकदमा कायम कर विवेचना में लिया गया है।

आरोपियों के पास से 37 हज़ार नगदी, लाखों रुपये सट्टे का हिसाब किताब, डायरियां रजिस्टर, 01 टैबलेट, 02 लैपटॉप, 31 मोबाइल फ़ोन, आदि बरामद हुए हैं।


दूसरे मामले में सूचना मिली कि थाना कनाड़िया क्षेत्र मे जी 9 प्रापर्टी ब्रोकर आफिस के पास कुछ लोग रायल चैलेंजर बैंगलोर विरुद्ध कोलकाता नाईट राईडर्स के बीच हुये आईपीएल मैच पर हार जीत का दाव लगाकर सट्टे का अवैध कारोबार कर रहे हैं।

👆🏽कनाड़िया के सट्टे के आरोपी

इस पर क्राईम ब्रांच एवं थाना कनाडिया की संयुक्त टीम ने कनाड़िया रोड जी 9 प्रापर्टी ब्रोकर आफिस के सामने से घेराबंदी कर 1. गणेश पिता मुकेश चौधरी उम्र 28 साल निवासी 71 पिपलियाहाना तिलकनगर इंदौर 2. संजय उर्फ जगन पिता देवीलाल परमार जाति दर्जी उम्र 34 साल निवासी 284 आलोक नगर इंदौर को पकड़ा। इनके पास से आई पी एल क्रिकेट मैच RCB vs KKR के खिलाङियो के संबंध में रन बनाने तथा टीमों के हार जीत के भाव व अन्य हिसाब किताब के दस्तावेज मिले। तस्दीक करने पर पाया कि आरोपीगण cricketlive.in और cricket guru नाम की application अपने Mobile में download
आरोपी संजय रियल स्टेट प्रापर्टी ब्रोकर का काम करता है। आरोपी पूर्व में जुआ खेलता था जिसने बताया कि जुए में पैसे हारने पर उस पर दो लाख रु. का कर्जा हो गया था जिसे वह चुका नहीं पा रहा था इस कारण वह आईपीएल मे सट्टे का व्यापार कर मुनाफा करने की जुगत में था।

आरोपी गणेश कमीशन पर सट्टे में पैसा लगाने वाले ग्राहक आरोपी संजय तक लाता था जिसे 200 रुपये प्रति ग्राहक कमीशन मिलता था। आरोपियों के विरुद्ध थाना कनाड़िया मे धारा पब्लिक गेंबलिंग एक्ट 4क के तहत पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया है। यह कार्रवाई डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र, एसपी मुख्यालय सूरज वर्मा, एएसपी क्राइम गुरुप्रसाद पाराशर के निर्देशन में की गई।

उल्लेखनीय है कि 2 दिन पहले ही राजेन्द्र नगर थाना क्षेत्र में आईपीएल मैच के ऑनलाइन सट्टे के 2 अलग अलग केस पकड़े गए थे।

Spread the love

7

इंदौर