बेबाक शायरी के लिए विख्यात मशहूर शायर 70 वर्षीय राहत इंदौरी का इंदौर में इंतकाल

इंदौर। हिंदुस्तान ही नही बल्कि विश्व के तमाम मुल्कों में अपनी बेबाक शायरी के लिए विख्यात मशहूर शायर 70 वर्षीय राहत इंदौरी का मंगलवार शाम उनके गृह क्षेत्र इंदौर में इंतकाल हो गया। उन्हें 2 दिन पहले स्थानीय श्री अरबिंदो हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था।
उन्होंने खुद ट्वीट कर अस्पताल में भर्ती होने व जांच में कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी थी।


आज शाम करीब 4:40 पर उन्होंने अंतिम सांस ली। उनकी मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया है।


श्री अरबिंदो हॉस्पिटल के डॉक्टर मोहित भंडारी ने की शायर राहत इंदौरी के निधन की पुष्टि की। देखें वीडियो

राहत साहब के कुछ चुनिंदा शेर

किसने दस्तक दी, दिल पे, ये कौन है
आप तो अन्दर हैं, बाहर कौन है

ये हादसा तो किसी दिन गुजरने वाला था
मैं बच भी जाता तो एक रोज मरने वाला था

मेरा नसीब, मेरे हाथ कट गए वरना
मैं तेरी माँग में सिन्दूर भरने वाला था

आँख में पानी रखो होंटों पे चिंगारी रखो
ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो।

Spread the love

6

इंदौर