फार्महाउस में अपनी ही पत्नी को कोल्ड ड्रिंक्स में नशीला प्रदार्थ पिलाकर आपत्तिजनक वीडियो बनाकर, ब्लैकमेल करने का आरोप, पति के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

इंदौर। फार्म हाउस में अपनी ही पत्नी को कोल्डड्रिंक्स में नशीला प्रदार्थ पिलाकर, आपत्तिजनक वीडियो बनाकर, ब्लैकमेल करने के आरोप में खुड़ैल पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है।

पीड़िता के अभिभाषक कृष्ण कुमार कुन्हारे ने बताया कि बाणगंगा निवासी पीड़िता की रिपोर्ट पर भारत धाकड़ के विरुद्ध उक्त मामला दर्ज किया है। उसने अपनी पहली पत्नी को मृत बताकर पीड़िता को जमनिया खुर्द मंदिर में जाकर शादी की थी और वही पर स्थित फार्म हाउस में पत्नी के रूप में रखने लगा।

इसी दौरान एक दिन पति को मोबाइल पर महिला से बात करते हुए पीड़िता ने पकड़ लिया और भारत से पूछने पर पता चला कि फोन करने वाली महिला उसकी पहली पत्नी है और जिंदा है,जिस पर पीड़िता के साथ हुए छल को लेकर पीड़िता ने समाज के सामने दूसरी पत्नी के रूप में स्वीकारने हेतु भारत को बोला तो वो कुछ दिनों बाद बड़ा कार्यक्रम कर रखने का बोल बात टालता रहा पर भारत ने बाद में पलट गया।

जिस पर पीड़िता के साथ हुए दैहिक शोषण की रिपोर्ट पर से भारत को जेल भेज दिया। बाद में भारत के पिता और पहली पत्नी द्वारा पीड़िता को दूसरी पत्नी के रूप में रखने पर कोई आपत्ति नही होना प्रकट किया, जिस पर से पीड़िता ने आरोपी पति के साथ भविष्य में साथ रहने के सपने संजोकर आरोपी से केस में राजीनामा कर लिया, लेकिन जेल से छूटते से ही आरोपी ने पीड़िता को पत्नी मानने से मना कर दिया, जिसके बाद पीड़िता ने अपने वकील कृष्ण कुमार कुन्हारे के माध्यम से दूसरी पत्नी के रूप में फैमिली कोर्ट इंदौर भरण पोषण का केस लगाया था,जहाँ कोर्ट ने भारत की सारी आपत्तियाँ निरस्त कर पीड़िता को पत्नी के रूप में अंतरिम भरण पोषण आरोपी से दिलवाने के आदेश दिए जिस आदेश का पालन भारत ने नही किया तो कोर्ट ने पति भारत का 50 हजार का वसूली वारंट निकाला।

आरोप है कि जिस पर उक्त भरण पोषण के केस में राजीनामा लेने का दबाव बना कर, द्वेषता रख आरोपी द्वारा पीड़िता को जमनिया खुर्द फार्म हाउस में रखने के दौरान कोल्डड्रिंक्स में नशीला प्रदार्थ पिला कर, बेसुध कर, पीड़िता के नग्न अश्लील, आपत्तिजनक वीडियो, फ़ोटो बनाये और भरण पोषण के केस में राजीनामा लेने का दबाव बनाने की नीयत से उक्त वीडियो,फ़ोटो समाज के और पीड़िता के रिश्तेदार को दिखा रहा था, जिसकी जानकारी पीड़िता को रिश्तेदारों द्वारा देने पर पीड़िता ने आने वकील कृष्ण कुमार कुन्हारे के माध्यम से डिमाण्ड ऑफ जस्टिस की याचना डी. आई.जी. इंदौर को की। डी. आई.जी. ने कार्यवाही का आश्वासन दिया,जिसके बाद थाना खुड़ैल में धारा 67-ए आई. टी.एक्ट में एफ.आई.आर. दर्ज हुई।

Spread the love

इंदौर