आचार्य श्री 108 विद्या सागर जी महाराज इंदौर शहर से मात्र 27 किमी दूर सिमरोल घाट पहुँचे, 5 जनवरी को इंदौर में मंगल प्रवेश की संभावना

इंदौर। आचार्य श्री 108 विद्या सागर जी महाराज का विहार इंदौर के लिए लगातार जारी है। गुरुवार को वे इंदौर शहर से मात्र 27 किमी दूर सिमरोल घाट पहुच चुके हैं। 5 जनवरी को इंदौर शहर में उनके मंगल प्रवेश की संभावना है। उनकी भव्य अगवानी को लेकर शुक्रवार को सामाजिक संसद द्वारा समाज की मीटिंग बुलायी गयी है।


बुधवार को आचार्य श्री और पूरा संघ ज़िले के बायीग्राम शनि मंदिर के निकट स्थित आश्रम में विराजित थे। आज गुरुवार को गुरुदेव ने दो मर्तबा विहार किया। सुबह साढ़े सात बजे आचार्य श्री और संघ ने ढायी किलोमीटर का विहार किया। सिमरोल घाट के पहले एक ढाबे के नज़दीक में फिर पूरा संघ पहुँचा। यहा पर आहार चर्या हुई।

आज आचार्य श्री को आहार देने का सौभाग्य इंदौर स्थित उदय नगर में रहने वाले अमित जैन पिता एके जैन (पूर्व अध्यक्ष उदयनगर समाज) को मिला है। इसके बाद फिर दोपहर में सामायिक हुई। इसके बाद फिर दोपहर एक बजकर 35 मिनिट से आचार्य श्री ने विहार शुरू कर दिया था। आचार्य श्री का आज विहार पूरे समय दोपहर में घाट सेक्शन में रहा। इस अवसर पर अनेक श्रद्धालुओं में गुरुजी के दर्शन का लाभ लिया।


आज से पुलिस बल बड़ाया

संघस्थ ब्रह्मचारी सुनिल भैया, दिगम्बर जैन समाज के नकुल पाटोदी, राहुल सेठी, विनय बाकलीवाल ने बताया कि चोरल-सिमरोल के घाट वाले क्षेत्र में कल दिन भर में अनेक बार वाहनो का जाम लगा था। कई घंटो तक लोग जाम में फँसें रहे, इसलिए आज से विहार के समय प्रशासन द्वारा पुलिस बल बढ़ाने का कहा गया है।

बायीग्राम शनि मंदिर पर सुबह से ही अनेक संख्या में पुलिसकर्मी पहुँच गए थे। अब इंदौर तक पुलिस प्रशासन द्वारा ही सभी व्यवस्था सम्भाली जाएगी।


शुक्रवार रात को दिगम्बर जैन समाज की मीटिंग

डीके जैन, सुरेंद्र बाकलीवाल, मनीष अजमेरा ने बताया कि आचार्य श्री की मंगल अगवानी अब शहर में शीघ्र ही होने वाली है। अगवानी को भव्य रूप देने और मार्ग को सजाने सहित अन्य व्यवस्था के संचालन के लिए शीश महल इतवारिया बाज़ार पर शुक्रवार 3 जनवरी को रात 8 बजे मीटिंग बुलायी गयी है।

इस मीटिंग में सभी समाजजन से विचार लिए जायेंगे। मीटिंग में दयोदय चेरिटेबल फ़ाउंडेशन ट्रस्ट के साथ महासमिति, जैन संस्कृति मंच, प्रज्ञ श्री संघ, पुलक मंच के सभी पदाधिकारी के साथ विभिन्न मंदिर और अन्य संगठन के पदाधिकारियों को बुलाया गया है।

Spread the love

27

इंदौर