Nov 29 2022 / 2:55 AM

शपथ के साथ ही इंदौर के नवनिर्वाचित महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने पहले 3 माह में पूरे किए जाने वाले कार्यो का लिया संकल्प, भाजपा के पार्षदों ने भी ली राष्ट्रप्रेम से ओतप्रोत समारोह मे शपथ

इंदौर। शुक्रवार को स्थानीय अभय प्रशाल में इंदौर के नवनिर्वाचित महापौर पुष्यमित्र भार्गव एवं भाजपा के 64 पार्षदों शपथ ली। राष्ट्रप्रेम से ओतप्रोत हजारों लोगों की उपस्थिति में आयोजित इस समारोह में महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने पहले तीन माह में जो सहर के विकास से जुड़े कार्य पूरे किए जाने हैं उनका संकल्प लिया। कल मीडिया के माध्यम से इन कार्यो की विस्तृत सूची जारी की जाएगी।

कार्यक्रम में कलेक्टर मनीष सिंह ने महापौर भार्गव सहित भाजपा के 64 पार्षदों को शपथ दिलाई। शपथ लेने के बाद महापौर पुष्यमित्र भर्गव सबसे पहले सफाई मित्रों से मिलने पहुंचे। इसके बाद उन्होंने वरिष्ठ नेताओं से मुलाक़ात की। पहले इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल होने वाले थे लेकिन किसी कारण से वह नहीं आ पाए।

समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आने वाले थे लेकिन नहीं आ पाए शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा, मंत्री भूपेंद्र सिंह, तुलसी सिलावट, उषा ठाकुर के अलावा पूर्व महापौर कृष्ण मुरारी मोघे, मालिनी गौड़ सहित कई वरिष्ठ भाजपा नेता भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर संबोधित करते हुए महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि हमारा सौभाग्य है, कि अहिल्या नगरी की सेवा करने का अवसर हमें जनता ने दिया है। इंदौर नगर पालिका निगम के महापौर के रूप में मैंने शपथ ली है, ये शपथ नहीं है, बल्कि जनता के प्रति हमारे दायित्वबोध का प्रतीक है।

एकात्म मानववाद हमारी पार्टी का मूलमंत्र है, केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार इसी मूलमंत्र को लेकर काम कर रही है, हमारी निगम परिषद भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के सपने को साकार करने के लिए गरीब व्यक्ति के कल्याण और उत्थान के लिए कार्य करेगी। यदि राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर ले जाना है, तो अंतिम व्यक्ति का कल्याण सुनिश्चित करना हमारी जवाबदारी है। हमारी निगम परिषद इसके लिए कृत संकल्पित है।

भार्गव ने कहा व्यक्ति की सबसे पहली पाठशाला उसका परिवार होता है, जहाँ से संस्कारों को लेकर वो समाज जीवन मे आता है, मेरा सौभाग्य रहा है कि मुझे मेरे माता पिता से सेवा, समर्पण, राष्ट्रवाद और सामाजिकता के संस्कार मिले। उन संस्कारो को लेकर समाज जीवन में कार्य करने का प्रयास किया। मेरी धर्मपत्नी व पूरे परिवार ने मुझे मेरे हर कार्य मे सहयोग किया।


भार्गव ने कहा जिस संगठन को भारत रत्न हम सबके प्रेरणा पुंज स्व. अटल बिहारी वाजपेयी, स्व. कुशाभाऊ ठाकरे, सुंदरलाल पटवा, कैलाश जोशी, नारायण राव धर्म, गोकुलदास भूतड़ा जैसे मनीषियों ने अपने तप और निष्ठा से सींचने का काम किया है, आज उसी संगठन ने मुझ जैसे छोटे कार्यकर्ता को महापौर प्रत्याशी के रूप में चुनकर जनता की सेवा करने का अवसर प्रदान किया है।

जनता के आशीर्वाद, कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से ऐतिहासिक विजय मिली है, लेकिन उसके साथ साथ इंदौर के विकास की जिम्मेदारी भी मिली है। उद्बोधन में भार्गव ने अपने गुरु पूर्व हाई कोर्ट जज पुष्यमित्र पीयूष माथुर जीवन मे उनके द्वारा दिए गए आशीर्वाद का भी उल्लेख किया।

भार्गव ने कहा कि निगम में हमारी परिषदें रही है, हमारे महापौरों ने इंदौर के विकास को सुनिश्चित करते हुए इंदौर को प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के सबसे सुंदर शहरों में शामिल करवाने का काम किया है। स्व. राजेन्द्र धारकर, स्व. श्री वल्लभ शर्मा, स्व. लालचंद मित्तल, स्व. मधुकर वर्मा और आज जो हम इंदौर का स्वरूप देख रहे है, उसमें कैलाश विजयवर्गीय, डॉ. उमाशशि शर्मा,  कृष्णमुरारी मोघे, मालिनी गौड़ के नेतृत्व में निगम परिषदों ने इंदौर के विकास को आगे बढ़ाने का काम किया है।


हम जनभागीदारी और जनस्वीकृति से विकास को नई दिशा देते हुए इंदौर को विश्व के नक्शे पर उभारने का काम करेंगे।
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और वी.डी. शर्मा के आशीर्वाद व मार्गदर्शन व सभी जनप्रतिनिधियों के विशेष सहयोग से यह निगम परिषद राजनैतिक शुचिता और विकास के नए मापदंड स्थापित कर  इन पांच वर्षों में अपने संकल्पों को पूरा करने का काम करेगी। स्वच्छ्ता के साथ साथ हमने हमारे संकल्प पत्र में यातायात प्रबंधन, सुव्यवस्थित यातायात व्यवस्था का एक लक्ष्य निर्धारित किया है। हमारे इस संकल्प को जनता पूर्ण करने में हमारा पूरा सहयोग करेगी, ऐसा हमारा विश्वास है।

कलेक्टर  मनीष सिंह ने महापौर श्री पुष्यमित्र भार्गव को सबसे पहले शपथ दिलवाई उसके बाद विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 1, 2, 3, 4, 5 के नवनिर्वाचित पार्षदों के बाद राऊ, देपालपुर, सांवेर के पार्षदों को पद व गोपनीयता की शपथ दिलवाई।

शपथ लेने के बाद श्री पुष्यमित्र भार्गव मंच से नीचे उतरकर साधु संत, वरिष्ठ जनों, समाजसेवियों के बीच पहुँचे उनका आशीर्वाद लिया। मीडियाकर्मियों का भी अभिनंदन किया।
उसके बाद मंच पर बैठे सभी वरिष्ठ नेताओं और माता -पिता और परिजनों के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लिया।
कार्यक्रम की शुरुवात नेताओ ने भारत माता , देवी अहिल्याबाई होल्कर और स्वामी विवेकानंद जी के चित्रों पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वल्लन के साथ की।

वीडियो साभार: मेट्रो टुडे

Share with

INDORE