इंदौर में ए.टी.एम. से लाखो की चोरी करने वाले दो तकनीकी जानकार चोर गिरफ्तार, दो वारदातें कबूली, पौने तेरह लाख बरामद

इंदौर। इंदौर में ए.टी.एम. से लाखो की चोरी करने वाले दो तकनीकी जानकार चोरों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इन्होंने दो वारदातें कबूली है। इनसे एटीएम से चुराए गए पौने तेरह लाख बरामद हुए हैं।

इनके पास से ए.टी.एम. मशीन तोड़ने के लिए उपयोग में लाए गए औजार, इलेक्ट्रिक ड्रिल मशीन, कटर, हथौड़ी, पेचकस, सुंबा भी जब्त किए गए।


पकड़े गए आरोपियों के नाम राहुल जैन पिता प्रमोद जैन 34 साल नि 218 क्लर्क कालोनी इंदौर व दिलीप सिहं पिता सुभाष सिंह भदोरिया 31 साल निवासी ग्राम देहरा जिला भिंड हाल 195 पिंक सिटी हीरानगर इंदौर है।


डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र द्वारा बताया गया कि 12 सितंबर 2020 के सुबह लगभग 4 30 बजे परदेशीपुरा इलेक्ट्रॉनिक काम्प्लेक्स के पास बैंक आफ इंडिया के ए टी एम से 1247500 रुपए चुराए गए थे। प्रारंभिक छानबीन में घटना के आस पास रहने वाले लोगो तथा मार्निग वाक पर निकलने वाले लोगो से पूछताछ करने पर घटना स्थल के पास बंद हेडलाईट वाली मोटर सायकल पर काले मास्क लगाये दो लोगो का गुजरना पता चला था ।

चुकि घटना तकनीकी जानकार चोरो द्वारा घटित होना प्रतीत हो रही थी अतः ए टी एम में पैसा डालने वाली कंपनी सिस्को के 25-30 की संख्या में लगे हुए कस्टोडियन्स एंव अन्य कर्मचारीयों से लगातार कई दिनो तक पुछताछ की गयी तथा प्रत्येक कस्टोडियन के दिनचर्या जानने के लिये उनके घरो के आस पास सिविल में पुलिस लगायी गयी।

इस दौरान विस्तृत जानकारी लेने के बाद सिस्को कंपनी में कार्य करने वाले दो पुर्व कस्टोडियन के बारे मे पुलिस को शक होने पर उनके बारे में जानकारी लेने पर पता चला कि अपने साथीयों के साथ अक्सर पार्निग वाक पर निकलते है जो कि पूर्व में ए.टी.एम. में पैसा डालने का काम करते थे।

इस सूचना पर गोपनीय तरीके से सिविल में पुलिस टीम लगाकर छानबीन के बाद इन दोनो को पकड़ा। पूछताछ में इन्होंने बताया कि वो दोनो मोटर सायकल से निकले थे तथा अपने औजार इलेक्ट्रिक ड्रिल मशीन , कटर , हथौड़ , पेचकस , सुंबा से ए टी एम का ताला तोड कर 12,47,500 / – रू निकाले थे । पुलिस द्वारा बदमाशों के कब्जे से चोरी गये 12,47,500 / – रू जप्त किए हैं।

इन्होंने ही एक अन्य ऐसी ही वारदात फरवरी 2020 में परदेशीपुरा क्षेत्र के ही अन्य एटीएम में करना भी कबूला जिसमे करीब साढ़े 12 लाख चुराए गए थे।


उक्त वारदात के खुलासे में एसपी विजय खत्री, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश रघुवंशी के मार्गदर्शन में सी एस पी विजय नगर राकेश गुप्ता, थाना प्रभारी इंद्रमणि पटेल, उनि अशरफ अली, आर धीरेन्द्र, नरेश चौहान, सुरेन्द्र यादव, नीरज तोमर, अंकुश, विक्रम, अमित खत्री, दुश्यंत राठौर व हेमंत चौहान की भूमिका रही। पुलिस महानिदेशक पुलिस मुख्यालय महोदय , भोपाल द्वारा इस वारदात का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को बधाई देते हुए, 50, 000 / – रूपये नगद पुरस्कार की घोषणा की गयी हैं।

Spread the love

14

इंदौर