इंदौर में सुनसान इलाकों में राहगीरों से मोबाईल छीनाझपटी तथा चोरी करने वाला 5 सदस्यीय गिरोह पकड़ाया, 62 मोबाईल फोन व लूट में प्रयुक्त 2 बाइक जब्त


इंदौर। इंदौर में सुनसान इलाकों में राहगीरों से मोबाईल छीनाझपटी तथा चोरी करने वाला 5 सदस्यीय गिरोह को क्राइम ब्रांच ने पकड़ा है। इनके कब्जे से 62 मोबाईल फोन व लूट में प्रयुक्त 2 बाइक जब्त की गई है। गिरोह का एक सदस्य नाबालिग है।


क्राईम ब्रांच की टीम को सूचना मिली थी कुछ नवयुवक थाना सदर बाजार क्षेत्र में मोटरसायकल वाहनों पर सवार होकर मंहगी कीमत के मोबाईल फोन सस्ते में बेचने की फिराक में घूम रहे हैं। सूचना पर घेराबंदी की तो 05 लड़के 02 अलग अलग दोपहिया पल्सर वाहनों पर सवार दिखे जिन पर पीछे बैठे लड़कों के हाथ में थैला था।

क्राईम ब्रांच की टीम को देखकर इन्होंने भागने का प्रयास किया। टीम द्वारा घेराबंदी कर सभी 05 को पकड़ लिया गया जिन्होंनें अपने नाम जुबेर शेख पिता सुल्तान सलाउद्दीन उम्र 20 वर्ष निवासी 20 भिस्ती मोहल्ला सदर बाजार इंदौर, अर्सलान शेख पिता जहीरउद्दीन शेख उम्र 21 वर्ष निवासी भिस्ती मोहल्ला सदर बाजार, साहिल पिता अब्दुल रशीद उम्र 19 वर्ष निवासी 16/1 अहिल्या पलटन गली नम्बर 01 जूना रिसाला इंदौर, जय कुमार वाधवानी पिता अनूप कुमार उम्र 24 वर्ष निवासी 302 आनंद अपार्टमेण्ट राजमहल कॉलोनी जूनी इंदौर एवं 01 अन्य 17 वर्षीय नाबालिग किशोर शामिल है।

आरोपियों के कब्जे से विभिन्न मोबाईल कंपनियों के कुल 62 एण्डायड मोबाईल फोन बरामद हुये जोकि उन्होंनें कुछ तो चोरी किये थे लेकिन ज्यादातर मोबाईल राह चलते मोबाईल फोन से बात करते हुये सुनसान ईलाकों में भ्रमण करने वाले राहगीरों से झपट्टा मारकर छीने थे।

आरोपियों ने बताया कि वह परस्पर सभी आरोपियान पूर्व से परिचित है जोकि गैंग के रूप में कार्य करते थे तथा इंदौर शहर के अलग अलग ईलाकों से उन्होंनें यह मोबाईल झपटे हैं। आरोपियों ने बताया कि लॉकडाउन के पूर्व झपट गये मोबाईलों को बेच नहीं सके थे किंतु वर्तमान में सब एकत्रित होकर सस्ती कीमतों में ये मोबाईल फोन बेचकर प्राप्त होने वाले पैसों को आपस में बांटने की नीयत से बाजारों में निकले थे।

आरोपियों में मुख्य सरगना जय कुमार वाधवानी हैं जोकि पल्सर वाहन अपनी गिरोह के सदस्यों को उपलब्ध कराता था तथा शेष 04 सदस्य राहगीरों से मोबाईल झपटकर जय को उपलब्ध कराते थे जोकि उन्हें बदले में कुछ कीमत चुकाता था किंतु जय मोबाईलों को मंहगे दामों में बेचकर स्वयं ज्यादा मुनाफा कमाता था। जय स्वयं भी कभी कभी गिरोह के सदस्यों के साथ वारदात करने के लिये बाजारों में निकलता था।

आरोपी जुबेर के विरूद्ध थाना सदर बाजार में चोरी के 03 प्रकरण व जुआ 01 प्रकरण पूर्व से दर्ज है जबकि आरोपी अर्सलान के विरूद्ध सेंटल कोतवाली में धारा 411 भादवि का 1 प्रकरण पूर्व से दर्ज है। आरोपियों से पूछताछ में थाना विजयनगर की 814/20 धारा 382 भादवि की घटना का भी खुलासा हुआ है। सभी आरोपियों के कब्जे से 02 पल्सर वाहन MP 09 VB 4532 एवं MP 09 QU 0329 एवं 62 मोबाईल फोन बरामद हुये हैं।

Spread the love

1

इंदौर