राजबाड़े पर दुष्कर्म में फांसी पर गुरुवार बहस

8 माह की बच्ची की हत्या भी कर दी थी

इंदौर में राजवाड़े के समीप एक 8 माह की बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को फांसी की सज़ा दी जाए या नही, इस पर बहस 19 जुलाई गुरुवार को होगी।

गौरतलब है कि इस संगीन वारदात के आरोपी नरेश को जिला कोर्ट से फांसी की सज़ा सुनाई गई थी। इसे कन्फर्म कराने के लिए शासन की ओर से हाई कोर्ट में मामला लगाया गया है जबकि आरोपी की ओर से फांसी की सज़ा के विरुद्ध क्रिमिनल अपील दायर की गई है। डिवीजन बेंच में इस पर सुनवाई होगी।यह था मामला

इंदौर के राजवाडे के समीप शिव विलास पैलेस की एक बिल्डिंग के तलघर में 19 अप्रेल 2018 को आठ महीने की मासूम का शव मिला था। मासूम के प्राइवेट पार्ट्स से खून निकलता मिला था।

जिससे आशंका जताई जा रही थी कि उसके साथ रेप किया गया और फिर हत्या कर दी गई। पीएम में रेप की पुष्टि के बाद घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी खंगालने पर पुलिस को एक संदिग्ध युवक नजर आया। जिसकी पहचान नरेश के रूप में हुई।

उसे गिरफ्तार करने के बाद पूछताछ में उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया था। वारदात से पहले पीड़िता की मां के साथ आरोपी की बहस हुई थी। जिसके बाद उसने वारदात को अंजाम दिया। मृतक बच्ची का परिवार बेहद गरीब है। वे गुब्बारे बेचकर गुजारा करते हैं और सड़क पर ही रहते हैं।

घटना वाले दिन भी वे राजबाड़ा के बाहर सो रहे थे। सुबह उठने पर जब बच्ची गायब मिली तो परेशान होकर उन्होंने उसे तलाशना शुरू कर दिया।जिसके बाद उन्हें बच्ची का शव मिला।
उसके आसपास खून बिखरा हुआ था। मात्र 22 दिन में विशेष जज वर्षा शर्मा की कोर्ट ने आरोपी को दोषी पाकर फांसी की सज़ा सुनाई थी। अब हाई कोर्ट में तय होगा कि उक्त फैसला सही था या नहीं।

Spread the love

इंदौर