इंदौर जिले की महू उप जेल के प्रहरी द्वारा कैदी को सुविधाएं उपलब्ध कराने के नाम पर 25 हजार रिश्वत की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस की कार्रवाई


इंदौर। इंदौर जिले की महू उप जेल के प्रहरी द्वारा एक कैदी को सुविधाएं उपलब्ध कराने के नाम पर 25 हजार रिश्वत मांगे जाने की शिकायत पर सोमवार को लोकायुक्त पुलिस द्वारा कार्रवाई की गई।

विशेष पुलिस स्थापना, लोकायुक्त कार्यालय, इंदौर में शिकायतकर्ता जितेंद्र सोलंकी, निवासी ग्राम खजुरिया, तहसील हातोद, जिला इंदौर द्वारा यह शिकायत की गई थी कि थाना किशनगंज में जून 2020 में धारा 34(2) आबकारी अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई से उसका मित्र संतोष चौकसे, उप जेल, महू मे बंद है। संतोष को जेल में कोई परेशानी नहीं हो इसके लिए जेल का स्टाफ लगातार पैसे की मांग कर रहा था। पहले भी संतोष की ओर से जेल स्टाफ को पैसे दिए गए थे किंतु और पैसे मांगे जा रहे थे।

शिकायतकर्ता जितेंद्र सोलंकी से उप जेल महू के प्रहरी अजेंद्रसिंह राठौर द्वारा फिर से राशी रुपए 25,000 की मांग की गई तो इस शिकायत पर आज लोकायुक्त की टीम जेल महू के प्रांगण में पहुंची तो आरोपी प्रहरी अजेंद्रसिंह राठौर द्वारा शिकायतकर्ता से जेल में कार्यरत सफाईकर्मी मनीष बाली को पैसे देने को कहा गया। आरोपी मनीष बाली को लोकायुक्त की टीम द्वारा राशि रुपया ₹25,000 लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। कार्रवाई अभी जारी है।

Spread the love

इंदौर