फारेस्ट अफसरों ने मांगी लाखों रिश्वत, इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने 2 फारेस्ट अफसरों सहित तीन के खिलाफ दर्ज किया केस

इंदौर। इंदौर में फॉरेस्ट अफसरों द्वारा लाखों रुपए की रिश्वत मांगे जाने का मामला सामने आया है। इसे लेकर इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने 2 फारेस्ट अफसरों सहित तीन के खिलाफ केस दर्ज किया है।

जिनके विरुद्ध केस रजिस्टर्ड किया गया है उनमें एल्विन वर्मन उप वन मंडल अधिकारी इंदौर, भगवान सिंह बडोले डिप्टी रेंजर इंदौर के अलावा एक अन्य शुभम अजमेरा निवासी इंदौर शामिल है।

वरिष्ठ पत्रकार और एक शैक्षणिक संस्थान से जुड़े विनय तिवारी निवासी 9, ओरिएंटल कांप्लेक्स स्कीम नंबर 54 विजय नगर इंदौर की रिपोर्ट पर लोकायुक्त पुलिस इंदौर ने अपराध क्रमांक 264/2019 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत दर्ज किया है।


मामला इस प्रकार है कि आवेदक से जुड़े स्कूल द्वारा वन विभाग की भूमि पर अतिक्रमण किए जाने नाम पर रिश्वत राशि की मांग की गई थी और ना देने पर अतिक्रमण हटाकर स्कूल की बिल्डिंग तोड़ देने की धमकी दी गई। इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस को की गई।

प्रथम दृष्टया रिकॉर्डिंग में प्रस्तुत वार्तालाप में रिश्वत संबंधी मांग सही पाए जाने पर उक्त कार्यवाही की गई। शिकायतकर्ता विनय तिवारी के अनुसार रिश्वत की मांग 80 लाख से एक करोड़ के बीच में की गई थी।

इसमें करीब डेढ़ लाख रुपए की राशि दी भी जा चुकी है । तीसरे आरोपी शुभम की भूमिका मध्यस्थ के रूप में रही।

Spread the love

8

इंदौर