Sep 23 2019 /
10:27 AM

खजराना मन्दिर पर मिलेंगे 550 रुपये में गणेशजी के चांदी के सिक्के, गणेश चतुर्थी महोत्सव का शुभारंभ

इंदौर। सुप्रसिद्ध खजराना मन्दिर पर भक्तों को 550 रुपये में गणेशजी के चांदी के सिक्के मिलेंगे। सोमवार को यहां पर गणेश चतुर्थी महोत्सव का शुभारंभ अवसर पर इन सिक्कों की बिक्री की भी शुरुआत हुई।

कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव द्वारा पूर्व में निर्देश दिये गये थे कि खजराना मंदिर में स्थित गणेश जी के 10 ग्राम के चांदी के सिक्के श्रद्धालुओं के लिये उपलब्ध कराये जाये, जिससे कि श्रद्धा अनुसार गणेश जी की प्रतिमा वाले सिक्कों को पूजा स्थल अथवा पर्स में रख सके।

इसके पालन में आज भगवान गणेश के समक्ष पूजा कर बुजुर्ग कर्मचारी ओमप्रकाश नेगी के हाथों से कलेक्टर जाटव द्वारा सिक्कों का विक्रय प्रारंभ कराया गया। इस अवसर पर भगवान श्री गणेश के चित्रों के चांदी के 10 ग्राम के सिक्कों की पूजा भी की गई, जो दर्शनार्थियों द्वारा चाहे जाने पर 550/- प्रति सिक्के के मान से राशि चुका कर प्राप्त कर सकेंगे।

यह सिक्के मंदिर परिसर में प्रबंध समिति द्वारा संचालित जैविक लड्डू व लड्डू प्रसाद जो मंदिर के अन्नक्षेत्र में निर्मित किये जाते है, कि दुकान जिसका नम्बर 59 व मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा संचालित गीता प्रेस गोरखपुर साहित्य की दुकान से भक्तों के लिये उपलब्ध रहेंगे, साथ ही इन्हें मंदिर प्रबंधन कार्यालय भी प्राप्त कर सकेंगे।

इधर आज श्री गणपति मंदिर खजराना में प्रबंध समिति परम्पराओं को निभाते हुए ही गणेश चतुर्थी महोत्सव का शुभारंभ कलेक्टर एवं खजराना गणेश मंदिर समिति के अध्यक्ष लोकेश कुमार जाटव तथा नगर निगम आयुक्त एवं प्रशासक आशीष सिंह द्वारा किया गया। इस अवसर पर खजराना गणेश को ध्वजा पूजन भी की गई। आज भगवान श्री गणेश की पूजा शहनाई वादन, 21 बटुकों तथा 40 पुजारियों द्वारा ध्वजा पूजन मंत्रोच्चारणों के साथ किया गया।

स्वर्ण आभूषणों से श्रृंगारित भगवान गणेश को सवा लाख मोदक का भोग लगाया गया। इस अवसर पर रिंग रोड़ से मंदिर परिसर तक रंगीन बल्बों से मार्ग को सजाया गया। मंदिर के गर्भगृह तथा पाण्डाल को फूलों से सजाया गया।

4 मंत्री भी पहुँचे

इस अवसर लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, लोक स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट तथा गृह मंत्री शबाला बच्चन ने भी भगवान गणेश की पूजा की तथा आशीर्वाद प्राप्त किया।

शहर में भी जगह-जगह विराजे बप्पा

इधर गणेश चतुर्थी पर शहर के चौराहों चौराहों पर भी विघ्न विनायक भगवान गणेश की प्रतिमा धूमधाम से स्थापित की गई। अनेक जगह चल समारोह से बाबा की प्रतिमा को आयोजन स्थल तक लाया गया।

घर, दफ्तरों में भी गणेशजी विराजित हुए। अब 10 दिनों तक लगातार अनेक सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रम आयोजित होंगे।

Spread the love

इंदौर