इंदौर में सीएम शिवराज बोले- मप्र में अवैध शराब बनाने वाले गिरोह को नेस्तनाबूद करने हेतु जल्द बनाया जाएगा नया अधिनियम, भू माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई के दिए निर्देश

–मुख्यमंत्री चौहान की अध्यक्षता में आयोजित हुई इंदौर उज्जैन संभाग के कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक

इंदौर। गुरुवार को इंदौर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि “प्रदेश सरकार सज्जनों के लिए फूल से ज्यादा कोमल पर अपराधियों के लिए वज्र से ज्यादा कठोर है। राज्य शासन के इस ध्येय को पुलिस विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों द्वारा मैदानी स्तर पर सार्थक रूप देना है। पुलिस विभाग को समाज का विश्वास अर्जित करते हुए अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का सिलसिला निरंतर जारी रखना है। कम्युनिटी पुलिसिंग के साथ ही हम अपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने में सफल हो सकेंगे।

मुख्यमंत्री चौहान ने यह बात गुरुवार को अपने इंदौर प्रवास के दौरान ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित की गई इंदौर-उज्जैन संभाग की कानून व्यवस्था समीक्षा बैठक में कही। इस अवसर पर गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मध्य प्रदेश पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव गृह विभाग डॉ. राजेश राजौरा, विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी मुख्यमंत्री कार्यालय मकरंद देऊस्कर, विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी गृह मंत्री कार्यालय डॉ अशोक अवस्थी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आदर्श कटियार, उज्जैन रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक योगेश देशमुख, पुलिस उप महानिरीक्षक उज्जैन एवं रतलाम रेंज सुशांत कुमार सक्सेना, इंदौर रेंज आईजी हरिनारायण चारी मिश्रा, संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, डीआईजी मनीष कपूरिया तथा इंदौर एवं उज्जैन संभाग के सभी प्रमुख पुलिस अधिकारीगण उपस्थित रहे।

नारी को सुरक्षा और सम्मान देना है हमारा प्राथमिक कर्तव्य

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर एवं उज्जैन जोन में महिलाओं के विरुद्ध हुए आपराधिक प्रकरणों की समीक्षा करते हुए कहा कि महिलाओं को सुरक्षा और सम्मान देना हमारा प्राथमिक कर्तव्य है। इस दिशा में पूरे प्रयास और ताकत के साथ हमें कार्य करना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश विरोधी वातावरण पर राज्य शासन जीरो इन टोलरेंस का रूख अपनाएगी। किसी भी तरह की देश विरोधी नारेबाजी किसी भी स्थिति में माफ नहीं की जाएगी।

अवैध शराब बनाने वाले गिरोह को नेस्तनाबूद करने हेतु जल्द बनाया जाएगा नया अधिनियम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर एवं उज्जैन संभाग में अवैध शराब बनाने वाली जगहों को चिन्हित कर इस प्रक्रिया में सक्रिय गिरोह के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि इस तरह के गिरोह को नष्ट करने के लिए शासन जल्द ही एक नया कानून लेकर आएगी। लेकिन तब तक अवैध शराब के विरुद्ध हो रही कार्रवाई में किसी भी तरह की लापरवाही न बरती जाए। गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अन्य राज्यों से प्रदेश में भेजी जा रही अवैध शराब के विरुद्ध सर्जिकल स्ट्राइक जैसी कार्यवाही भी अवश्य की जाए। इससे अवैध शराब के कारोबार में संलग्न व्यक्तियों को रोका जा सकेगा।

माफियाओं के विरुद्ध हो सख्त कार्रवाई

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मादक पदार्थ संबंधी गतिविधियों में संलग्न माफियाओं को हमें किसी भी हाल में पनपनें नहीं देना है। ऐसे माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करनी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जाति संबंधी अपराधिक प्रकरणों में इनके पीछे जो मुख्य कारण है उनका विश्लेषण किया जाए ताकि किसी भी तरह के सामाजिक तनाव संबंधी मामले उत्पन्न ना हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दोनों संभागों में पीएफआई, एसडीपीआई आदि संगठनों की गतिविधियों को नियमित रूप से मॉनिटर किया जाए और इनके नापाक मनसुबो को पूरी तरह कुचला जाये।

माफियाओं से मुक्त कराई गई जमीन गरीबों के उपयोग में लाई जाए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उज्जैन में भू-माफियाओं से मुक्त कराई गई 450 करोड रुपए की शासकीय जमीन में गरीबों के लिए आवास बनाया जायें।

जानकारी ही सतर्कता है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यदि हम अपराधों के पीछे कारणों का विश्लेषण करें तो उससे मिली जानकारी का अध्ययन करके हम इन अपराधिक घटनाओं को घटने से पहले ही रोक सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि हम जमीनी अमले को बेहतर तरीके से प्रशिक्षित करें और संवेदनशील बनाएं। जब वे उत्साह के साथ कार्य करेंगे तभी वे इस तरह के अपराधिक गतिविधियों पर रोक लगा पाएंगे।

पुलिस अपनाएं क्विक रिस्पांस टेक्निक

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर एवं उज्जैन संभाग के पुलिस विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई प्रशंसनीय है लेकिन कार्रवाई के साथ-साथ जनता तक उसके संबंध में जानकारी पहुंचाना भी आवश्यक है। इसलिए पुलिस द्वारा की जा रही कार्रवाई एवं घटनाओं के संबंध में समय पर जानकारी लोगों तक पहुंचाई जाए। जनता तक सही तथ्यों के साथ जानकारी पहुंचाने में और अधिक तेजी लाना आवश्यक है।

अवैध फायर आर्म्स में संलग्न व्यक्तियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए बनाए एक्शन प्लान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर एवं उज्जैन संभाग में अवैध फायर आर्म्स के कार्य में संलग्न अपराधियों के विरूद्ध कार्रवाई तो की ही जाए लेकिन इन्हें प्रशिक्षित कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए भी एक्शन प्लान तैयार किया जाए। उन्होंने कहा कि अवैध फायर आर्म्स जब जप्त किए जाते हैं तो उनके साथ-साथ उनके प्रोडक्शन यूनिट को भी नष्ट किया जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दोनों संभाग के पुलिस अमले को कोरोना काल के दौरान मानवता के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिये प्रशंसा करते हुये बधाई भी दी। बैठक में इंदौर आईजी श्री मिश्रा एवं उज्जैन जोन के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री देशमुख ने संबंधित संभागों में विगत माह में हुए आपराधिक प्रकरणों एवं उनके विरुद्ध की गई कार्रवाई के संबंध में मुख्यमंत्री श्री चौहान को अवगत कराया।

Spread the love

इंदौर