इंदौर में युवती ने सगाई से मना किया तो सोशयल मीडिया पर फर्जी आईडी बनाकर मोबाइल नंबर डालने वाला वाला राज्य साइबर सेल की गिरफ्त में

इंदौर। इंदौर में युवती ने सगाई से मना किया तो उसकी फर्जी फेसबुक व फर्जी टिकटाक आईडी बनाकर उस पर मोबाइल नंबर डालने वाला राज्य साइबर सेल की गिरफ्त में आया है।

पुलिस अधीक्षक सायबर सेल इंदौर जितेंद्र सिंह ने बताया कि सायबर सेल मे युवती नें शिकायत दर्ज करायी गई थी कि उसके नाम से किसी व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया पर बार बार फर्जी फेसबुक एवं टिकटाक आईडी बनाकर अश्लील भाषा का उपयोग करते हुए पीड़िता का मोबाइल नंबर एवं फोटो पोस्ट कर उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा था ।

मामले की विवेचना में आए तथ्यों के आधार पर संदिग्ध अनिल कुमार को पूछताछ हेतु आज सायबर सेल कार्यालय लाया गया । प्रारंभिक पूछताछ में उसने बताया कि वह पीड़िता युवती को पसंद करता था तथा उससे सगाई करना चाहता है जो कि उसी के ही समाज की है ।

पीडिता युवती सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, टिकटाक आदि पर बहुत सक्रिय रहती थी और वह अपने दोस्तो के साथ फोटो डालती रहती है , जो कि आरोपी को यह बात पसंद नही आयी । युवती के घर भी वह सगाई का प्रस्ताव लेकर गया था किंतु युवती ने सगाई का प्रस्ताव ठुकरा दिया। इसी बात से आहत होकर आरोपी नें युवती व उसके दोस्तो से बदला लेने की ठानी ।

आरोपी ने वर्ष 2019 से कई बार युवती की फर्जी फेसबुक आईडी बना चुका है तथा आईडी बनाकर युवती को एवं उसके दोस्तो को मैसेज करने बाद आईडी बंद कर देता था । आरोपी द्वारा अपराध करना स्वीकार किया है । आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से फर्जी फेसबुक आईडी एवं फर्जी टिकटाक आईडी बनाने में उपयोग किया गया मोबाइल फोन एवं सिम को जप्त किया गया है ।

उक्त अपराध की पतारसी में निरीक्षक राशिद अहमद, उप निरीक्षक राजेन्द्र सिंह,सउनि(अ) धीरज सिंह, प्रआर मनोज राठौड़, आर राहुल सिंह गौर, आरक्षक गजेन्द्र सिंह, आर. राकेश बामनिया, आर विक्रांत तिवारी, आर महावीर सिंह परिहार की भूमिका रही है ।

Spread the love

इंदौर