इंदौर में कोर्ट के फर्जी आदेश के आधार पर संतोष वर्मा के आईएएस बनने का मामला हाई कोर्ट पहुँचा, याचिका दायर कर एसआईटी का गठन व हाई कोर्ट की निगरानी में जांच की गुहार

इंदौर। इंदौर में कोर्ट के फर्जी आदेश के आधार पर संतोष वर्मा के आईएएस बनने का मामला हाई कोर्ट पहुँचा है। इसमे एक याचिका दायर कर प्रकरण में एसआईटी का गठन व हाई कोर्ट की निगरानी में जांच व सभी दोषियों को आरोपी बनाए जाने की गुहार की गई है।

यह याचिका एडवोकेट आलोक कुमावत की ओर से एडवोकेट धर्मेन्द्र गुर्जर गगन बजाड ने लगाई है। याचिका में राज्य सरकार के मुख्य सचिव, सेक्रेटरी होम, आईजी व एसपी इंदौर और लसूड़िया एवम एमजी रोड थानों के टीआई को पक्षकार बनाया गया है।


उल्लेखनीय है कि अफसर संतोष वर्मा पर आरोप है कि आईएएस बनने के लिए एक विशेष न्यायाधीश के फर्जी हस्ताक्षर से कोर्ट आदेश बनाकर डीपीसी कमेटी के समक्ष प्रस्तुत करने का आरोप है। उस पर एक युवती ने शादी का झांसा देने और मारपीट करने का आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत की थी। आरोप है कि इसी मामले में आरोपी संतोष वर्मा ने कोर्ट का फर्जी आदेश बनवाया पर पकडा गया। फिलहाल वह रिमांड पर है।

Spread the love

इंदौर