इंदौर में 55 साल से ज्यादा उम्र,गंभीर बीमारी से ग्रस्त,जिनके बच्चे 2 साल से छोटे है उन कर्मचारियों की सर्वेक्षण में ड्यूटी नही लगाएं कलेक्टर ने दिया आदेश

इंदौर। इंदौर में 55 साल से ज्यादा उम्र,गंभीर बीमारी से ग्रस्त,जिनके बच्चे 2 साल से छोटे है उन कर्मचारियों की सर्वेक्षण में ड्यूटी नही लगाने के आदेश कलेक्टर मनीष सिंह ने दिए है।


आज नेहरू स्टेडियम में प्रशिक्षण के दौरान कई शिक्षकों , एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं ने बताया कि वह गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं कई महिला कर्मचारियों ने कहा कि उनके बच्चे बहुत छोटे हैं कुछ कर्मचारियों ने कहा कि उनका रिटायरमेंट करीब है।

इसे देखते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन कर्मचारियों की उम्र 55 साल से ज्यादा है या जो गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हैं अथवा जिनके बच्चों की उम्र 2 वर्ष से कम है ऐसे कर्मचारियों की ड्यूटी सर्वेक्षण कार्य में नहीं लगाई जाए।

कलेक्टर ने कहा कि ऐसे सभी कर्मचारियों की उचित दस्तावेज देखने के बाद इनकी ड्यूटी निरस्त कर दी जाए। वही पति पत्नी दोनों की सर्वेक्षण में ड्यूटी लगी होने पर भी कलेक्टर ने दोनों में से एक की ड्यूटी निरस्त करने के आदेश दिए।


सर्वेक्षण दलों का हौसला बढ़ाने पहुंचे कलेक्टर और निगमायुक्त


आज विनोबा नगर में स्वास्थ्य सर्वेक्षण दल के साथ हुई घटना के बाद सर्वेक्षण दल के कर्मचारी काफी डरे हुए थे । इसे देखते हुए आज नेहरू स्टेडियम में आयोजित 200 से ज्यादा स्वास्थ्य सर्वेक्षण दलों के प्रशिक्षण में स्वयं कलेक्टर मनीष सिंह और निगम आयुक्त आशीष सिंह पहुंचे।

कलेक्टर ने इन कर्मचारियों से कहा कि डरने की कोई जरूरत नहीं है मैं तुम्हारे पीछे खड़ा हूं । कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि जिन लोगों ने यह हरकत की है उन्हें इतनी कड़ी सजा मिलेगी कि वह जीवन में दोबारा ऐसी गलती नहीं करेंगे कुछ कर्मचारियों ने कहा कि उनकी सुरक्षा की क्या व्यवस्था है इस पर कलेक्टर ने कहा कि आप सिर्फ मेरा नाम ले लेना।

Spread the love

इंदौर