Dec 07 2021 / 2:21 AM

इंदौर में अपनी ही ढाई साल की बच्चीे के साथ हैवानियत करने वाले पिता को हुआ 20 वर्ष का सश्रम कारावास

इंदौर। इंदौर में अपनी ही ढाई साल की बच्चीे के साथ हैवानियत करने वाले आरोपी पिता को कोर्ट ने दोषी पाते हुए 20 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है।

विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो एक्ट‍) पावस श्रीवास्तव के न्यायालय ने आरोपी पिता को दोषी पाते हुए धारा 376(2)(एफ) भा.द.सं. में 10 वर्ष का सश्रम कारावास, धारा 376 एबी भा.द.सं. में 20 वर्ष का सश्रम कारावास, धारा 5 (एम) सहपठित 6 पॉक्सो एक्ट में 10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं धारा 5 (एन) सहपठित 6 पॉक्सोक एक्ट में 10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं कुल 4000 रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया।


जिला अभियोजन अधिकारी संजीव श्रीवास्ततव ने बताया कि अभियोजन कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि दिनांक 10.01.2020 को थाना परदेशीपुरा इंदौर में पीडिता ढाई वर्षीय बालिका की मॉ ने थाने आकर यह रिपोर्ट दर्ज करवाई कि वह टाउनाशिपों में केयर टेकर का काम करती है जहॉ रोज नाईट ड्यूटी रहती है। घटना वाली रात वह अपनी बच्ची को रोज की तहर उसके अभियुक्त पापा के साथ घर पर छोडकर गई थी ।

सुबह देखा तो प्राइवेट पार्ट में सूजन व दर्द से बच्ची कराहने लगी। पूछताछ में आरोपी पिता द्वारा हैवानियत की बात सामने आने पर पीडिता बच्ची की मॉ ने थाना परदेशीपुरा में आकर रिपोर्ट दर्ज कराई जिसके आधार पर अभियुक्त पिता को गिरफ्तार किया गया था। प्रकरण में अभियोजन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक संजय मीणा द्वारा की गई।

Spread the love

Indore