इंदौर आई हॉस्पिटल के मामले में हाईकोर्ट ने कलेक्टर का आदेश किया स्थगित, नोटिस जारी कर पूछा, किस प्रावधान के तहत लगाए थे ताले

इंदौर। इंदौर आई हॉस्पिटल के मामले में हाईकोर्ट ने इंदौर कलेक्टर का वह आदेश स्थगित कर दिया जिसमें उन्होंने अस्पताल की भूमि पर कब्जा लेने व ताला लगाने के आदेश दिए थे। साथ ही नोटिस जारी कर पूछा है कि किस प्रावधान के तहत ये ताले लगाए थे।


आज सुनवाई के दौरान जस्टिस वंदना कसरेकर की बेंच ने सीनियर एडवोकेट एके सेठी व आरएस शर्मा के माध्यम से उक्त अस्पताल प्रबंधन द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए उक्त नोटिस जारी किए।


कोर्ट ने कलेक्टर इंदौर द्वारा दिनांक 4 अक्टूबर 2019 को पारित आदेश को स्थगित कर दिया जिसमें कलेक्टर ने इंदौर आई हॉस्पिटल को आवंटित भूमि का कब्जा देने एवं तहसीलदार को धारा 248 मध्य प्रदेश भू राजस्व संहिता के प्रावधानों के अंतर्गत कार्यवाही करने के आदेश दिए थे।

हाईकोर्ट में यह भी पाया कि 2 नवम्बर 2019 इंदौर आई हॉस्पिटल पर जो ताले लगाये गए थे, वह तहसीलदार द्वारा हटा लिए गए है लेकिन इस आधार पर सभी प्रकरणों को नोटिस जारी करने के आदेश पारित कर दिए कि बिना किसी प्रावधान के एवं बिना किसी सक्षम अधिकारी या न्यायालय के आदेश के, इस प्रकार की कार्यवाही क्यों की गई?

इस संबंध में हाईकोर्ट ने मध्यप्रदेश शासन के राजस्व विभाग, आयुक्त इंदौर सम्भाग, कलेक्टर इंदौर, अनुविभागीय अधिकारी इंदौर, तहसीलदार मल्हारगंज को तो नोटिस जारी किए ही है लेकिन व्यक्तिगत नाम से लोकेश जाटव कलेक्टर इंदौर, एसडीओ राकेश शर्मा, सिराज खान तहसीलदार मनीष श्रीवास्तव, तहसीलदार, दिनेश सोनारकिया अतिरिक्त तहसीलदार, तेज सिंह सोलंकी, राजस्व निरीक्षक, अखिलेश सरमंडल एवं रामलाल खेड़कर राजस्व निरीक्षक को व्यक्तिगत रूप से नाम से भी नोटिस जारी किए हैं एवं यह पूछा है कि उन्होंने किस प्रावधान के अंतर्गत एवं किस वैधानिक आदेश के अंतर्गत इंदौर आई हॉस्पिटल के भवन पर ताले लगाए?


उल्लेखनीय है कि प्रशासन द्वारा इस अस्पताल पर गत 16 अक्टूबर 2019 को कब्जा लेकर यहां सील व ताला लगाने की कार्रवाई की गई थी। कोर्ट ने अस्पताल के ताले व सील तुरंत खोलने के आदेश दिए थे जिसके तहत गत 2 नवम्बर को ताले खोल दिए गए थे।


यह भी उल्लेखनीय हैं कि इस अस्पताल में करीब दो महीने पहले आंखों का ऑपरेशन असफल होने पर 15 मरीजों की आंखों की रोशनी जाने का मामला हुआ था।

Spread the love

7

इंदौर