नागपुर से चार वर्षीय शिशु का अपहरण कर नेपाल ले जाने वाला अपहरणकर्ता इंदौर क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में, शिशु सकुशल बरामद

-इंदौर से दिल्ली जाने के लिये बुक करा चुका था वोल्वो बस का टिकट, नागपुर से आज इंदौर पहुंचा था अपहरणकर्ता

इंदौर। महाराष्ट्र के नागपुर से चार वर्षीय शिशु का अपहरण कर नेपाल ले जाने वाले अपहरणकर्ता को इंदौर क्राईम ब्रांच ने गिरफ्तार कर शिशु को सकुशल बरामद कर लिया है।

नागपुर पुलिस द्वारा इंदौर के डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र को सूचना दी गई थी कि एक व्यक्ति 04 वर्ष के मासूम का अपहरण कर इंदौर के रास्ते लेकर भाग रहा है। इस पर क्राईम ब्रांच इंदौर की टीम को उपरोक्त अपहरणकर्ता की पतासाजी हेतु निर्देशित किया गया।

क्राइम ब्रांच इंदौर की टीम ने पतासाजी करते हुये आरोपी फारूख उर्फ बम्बईया खान पिता इब्राहिम खान उम्र 55 वर्ष मूल निवासी वार्ड नम्बर 13 विराटनगर, भूमि प्रशासन चौक तिंगतौलिया नेपाल हाल मुकाम: कोहिनूर होटल नागपुर को पकड़ा। उसके कब्जे से अपह्रत 04 वर्ष के मासूम बच्चे अदनान को बरामद कर लिया।


यह थी घटना

घटना का विवरण इस प्रकार है कि फिरदोस फातिमा पति शब्बीर खान उम्र 30 वर्ष नि मोटा ताजबाग दरबार मुख्य गेट फुटपाथ शक्करदरा नागपुर, स्थायी पता पुर्णा जिला परभणी द्वारा शक्करदारा थाना नागपुर में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके बेटे अदनान उम्र करीबन 04 वर्ष को आरोपी अपहरण कर के ले गया।

नागपुर पुलिस द्वारा आरोपी के संबंध में इंदौर पुलिस को सूचना दी गई जिसके रास्ते को ट्रेस करते हुये इंदौर क्राईम ब्रांच की टीम ने आरेापी को ढक्कनवाला कुआं के पास इंदौर से धरदबोचा। आरोपी वोल्वो बस से नागपुर से आया था तथा आज शाम की वोल्वो बस से दिल्ली के रास्ते नेपाल जाने वाला था।

आरोपी से की गई आरंभिक पूछताछ में शिशु को कहाँ ले जाता तथा क्यूँ अपहरण कर के लाया आदि तथ्य सन्देहास्पद है तथा क्या वह नेपाल जाकर शिशु को बेच देता? इस सम्बन्ध में नागपुर पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर खुलासा करेगी।

आरोपी वर्ष 1996 में नेपाल से काम के लिये भारत आया था तथा तबसे महाराष्ट्र के अधिकांश शहरों में जैसे मुंबई ठाणे, पुणे, औरंगाबाद व नागपुर आदि जगहों पर काम के सिलसिले में रहा तथा हर साल छः माह में नेपाल जाता रहता था। आरोपी ने मुंबई में रहने के दौरान वर्ष 1998 में मुंबई की एक युवती से निकाह करना स्वीकार तथ बताया कि विवाह के छः माह उपरांत उसकी मौत हो गई थी।

आरोपी लकड़ी पालिश का काम करता है जोकि काम के सिलसिले में नागपुर में होटल कोहिनूर में नौकरी करता था तथा वहां पर अपहृत शिशु के परिजनों से संपर्क में आया व पहले बच्चों को दूध, बिस्किट और टॉफी उनसे निकटता बढ़ाई तथा मौका पाकर एक बच्चे का अपहरण कर नेपाल के लिए रातों रात भाग लिया।


आरोपी गांजे के नशा करने का भी आदी है। आरोपी के कब्जे से नगदी करीबन 15 हजार रूपये, दैनिक उपयोग की वस्तुुओं से भरा बैग तथा इंदौर से दिल्ली जाने के लिये बुक कराया गया टिकट बरामद हुआ है। आरोपी को पकड़कर शिशु को दस्तयाब कर क्राईम ब्रांच ने हिरासत में लिया है बाद अग्रिम कार्यवाही हेतु नागपुर पुलिस को सूचित किया गया है जिसके आने पर आरोपी तथा शिशु को नागपुर पुलिस के सुपुर्द किया जाएगा।

Spread the love

7

इंदौर