इंदौर पुलिस ने हनीट्रैप केस में कोर्ट से मांगी आरती व श्वेता के वाइस टेस्ट व हस्ताक्षर नमूना जेल में जाकर लेने की अनुमति

इंदौर। इंदौर पुलिस ने सोमवार को आवेदन देकर हनीट्रैप केस में कोर्ट से आरोपी आरती पंकज दयाल व श्वेता विजय जैन के वाइस टेस्ट व हस्ताक्षर नमूना जेल में जाकर लेने की अनुमति मांगी है।
केस में आज सभी आरोपियों की वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोर्ट में पेशी हुई।

इस दौरान पुलिस ने उक्त आवेदन दिया। इसमें कहा गया कि आरोपी आरती द्वारा फरियादी हरभजन सिंह को फोन पर धमकाकर कर तीन करोड़ रुपये मांगे गए थे वही आरोपी श्वेता द्वारा कई लोगों से वसूली गई धनराशि की लिखा पढ़ी की गई। इसके चलते आरती का वॉइस टेस्ट व श्वेता के हैंड राइटिंग के नमूने लिए जाना है।

कोर्ट से गुहार की गई कि फिलहाल दोनों इंदौर की जिला जेल में बंद है अतः इस कार्य के लिए वहां जाकर किये जाने की अनुमति दी जाए।

आरोपी की ओर से एडवोकेट धर्मेंद्र गुर्जर व अमर सिंह राठौर उपस्थित थे। एडवोकेट गुर्जर ने पुलिस के इस आवेदन पर जवाब पेश करने के लिए समय मांगा। इसके चलते कल पुनः सुनवाई रखी गई है।


गौरतलब है कि हनीट्रैप मामले की आरोपी श्वेता विजय जैन, श्वेता स्वप्निल जैन और बरखा, मोनिका आदि फिलहाल जेल में है।

Spread the love

इंदौर