इंदौर हो अनलॉक, नियत संख्या कर शादियों की स्वीकृती प्रदान करने सहित अन्य मुद्दों पर मोघे की सीएम शिवराज से हुई चर्चा, सिलावट ने भी जनता से मांगे सुझाव

इंदौर। लगातार कम हो रहे कोरोना संक्रमण के बीच अब इंदौर को पूरी तरह अनलॉक किये जाने की मांग उठ रही है। इसे लेकर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता कृष्णमुरारी मोघे ने आज भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। मोघे ने इंदौर को अनलॉक करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को देने का आग्रह किया।

मोघे ने कहा कि वर्तमान परिस्थिति में कोरोना संक्रमण दर काफी निम्न स्तर पर आ चुकी है इंदौर मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी होने से व्यापार व्यवसाय बड़े पैमाने पर प्रभावित हो रहा है। उन्होंने बताया कि शहर के सभी व्यापारी वर्ग की मांग है कि वर्तमान स्थिति में इंदौर को अनलॉक करना उचित होगा।पिछले दिनों विभिन्न एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने मोघे से मुलाकात कर अपनी अपनी समस्या व मांगे रखी थी। उसी श्रृंखला में आज इंदौर के व्यापारियो की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए मोघे ने आज भोपाल में मुख्यमंत्री से भेंट कर जनभावना से उन्हें अवगत कराया जिसमें इंदौर को अब अनलॉक करने की बात कहीं।


साथ ही मोघे ने कहा कि अभी शादियों के मुहूर्त भी काफी कम बचे हैं सो वर्तमान परिस्थिति में कोरोना संक्रमण की दरों में कमी को देखते हुए एक निर्धारित संख्या तय करके शादीयो की परमिशन भी देना उचित होगा। मोघे ने मुख्यमंत्री की उस घोषणा के लिए भी उन्हें धन्यवाद दिया जिसमें कोरोना संक्रमण के चलते जिस परिवार में असामायिक मृत्यु हुई है उन्हें एक लाख की अनुदान सहयोग राशि की घोषणा की गई थी उसमें कई तकनीकी बिंदुओं को देखते हुए मोघे ने आग्रह किया कि जिस भी व्यक्ति की मृत्यु, अस्पताल में भर्ती होते समय कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव होने के बाद हुई है चाहे वह किसी भी कारण से हुई हो,उसे कोरोना संक्रमण से हुई मृत्यु मानी जाकर उस परिवार को उपरोक्त अनुदान सहयोग राशि दिया जाना चाहिये। एवं इस प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाना चाहिये। मुख्यमंत्री चौहान ने मोघे की बातों को गंभीरता से सुना व शीघ्र ही निराकरण का आश्वासन भी दिया।

आम नागरिक दे सकते हैं अपना सुझाव

इधर इंदौर के प्रभारी मंत्री और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कोविड अनुकूल व्यवहार के लिए बनाये गए मंत्रीमंडल समूह के सदस्य तुलसी सिलावट ने आने वाले दिनों में कोरोना से लड़ने में सहायक सुझाव देने के लिए आम नागरिकों से आह्वान किया है। मंत्री सिलावट ने कहा है कि इंदौर सहित पूरे मध्य प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया निरंतर जारी है,अधिकांश व्यापारिक एवं रोज़गार मूलक गतिविधियाँ प्रारंभ कर दी गई है। ऐसी परिस्थितियों में हमें अत्यंत सावधानीपूर्वक अपनी जीवनचर्या का निर्धारण करना है, हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में सुरक्षा,संयम और सावधानी बेहद ज़रूरी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्तमान परिस्थितियों में कोविड अनुकूल व्यवहार के निर्धारण के लिए मंत्री-समूह भी गठित किया है जिसमे मंत्री श्री तुलसी सिलावट सहित मंत्रीगण उषा ठाकुर, विजय शाह, जगदीश देवड़ा,यशोधरा राजे सिंधिया, भूपेंद्र सिंह एवं अरविन्द भदौरिया शामिल हैं। मुख्यमंत्री चौहान द्वारा प्रदेश में कोविड संक्रमण की चेन को स्थायी रूप से तोड़ने के उद्देश्य से आम नागरिकों में कोविड अनुकूल व्यवहार के सुनिश्चयन हेतु इसके निरंतर प्रचार-प्रसार, पर्यवेक्षण एवं जागरूकता के लिये उक्त मंत्री समूह का गठन किया है।

इसी तारतम्य में मंत्री श्री तुलसी सिलावट ने इंदौर सहित प्रदेश के सभी नागरिकों,बुद्धिजीवियों, मीडिया कर्मियों, सामाजिक संस्थाओं,जन प्रतिनिधियों, धर्मगुरूओं, विद्यार्थियों, युवाओं, महिला संगठनों इत्यादि से ऐसे सुझाव आमंत्रित किए हैं जो कोरोना की दूसरी लहर के बाद इसकी तीसरी लहर को रोकने में सहायक सिद्ध हो सकें। मंत्री तुलसी सिलावट ने सुझाव प्राप्त करने के लिए अपना नवीन मेल आईडी- cab.tulsisilawat@gmail.com भी जारी की है, इस मेल आईडी पर कोविड अनुकूल व्यवहार के व्यापक आउटरीच के लिए सभी अपने सुझाव भेज सकते हैं।

Spread the love

इंदौर