इंदौर: कालाकुंड पटेल हत्याकांड का 24 घंटे मे पुलिस ने किया खुलासा, सगे भाई ने ही साथी के साथ मिलकर दिया भाई की हत्या को अंजाम

इंदौर । पुलिस थाना सिमरोल क्षेत्र में 17 जुलाई को कालाकुंड रेलवे स्टेशन के पीछे चोरल नदी पर बने स्टॉपडेम में गांव के पटेल सेवाराम कोहली की लाश पड़ी होने की सूचना मिली थी। मृतक सेवाराम शरीर पर कई जगह गम्भीर चोटें थी जो कि किसी धारदार हथियार से आना प्रतीत हो रही थी।

मामले में पिछला के दौरान पता चला कि दिनांक 16 जुलाई को घटनास्थल स्टॉपडेम पर मृतक के भाई रमेश कोहली एवं गाँव के छितर सिंह भी मछली पकड़ने गए थे, जिनसे संदेह के आधार पर बारीकी से पूछताछ की गई। पूछताछ मैं संदेही रमेश कोहली एवं छीतर सिंह के द्वारा कुल्हाड़ी से सेवाराम की हत्या करना स्वीकार किया गया । हत्या का कारण सेवाराम द्वारा स्टॉपडेम पर आरोपियों को मछली पकड़ने से रोकने पर हुआ विवाद बताया गया है ।

प्रकरण में गांव के पटेल मृतक सेवाराम कोहली ने चोरल नदी स्टॉप डेम पर मछली पकड़ने का एकाधिकार दबंगई से जमा रखा था, जिसे खत्म करने के लिए उसके सगे भाई रमेश पिता रघुनाथ कोहली द्वारा अपने साथी छितर पिता नानूराम कोहली के साथ मिलकर सेवाराम कोहली की हत्या करना पाया गया है ।

प्रकरण में आरोपी छितर पिता नानूराम कोहली जाति भील उम्र 40 वर्ष निवासी कालाकुंड बरखेड़ा और रमेश पिता रघुनाथ कोहली जाति भील उम्र 58 वर्ष निवासी बरखेड़ा कालाकुंड को गिरफ्तार किया गया तथा वक्त घटना उपयोग की गई कुल्हाड़ी तथा पहने हुए कपड़े भी जप्त किए गए ।

थाना सिमरोल क्षैत्रान्तर्गत हुई इस नृशंस हत्या के खुलासा एवं आरोपीयो की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी धर्मेंद्र शिवहरे, उप निरीक्षक आशीष शर्मा, प्रधान आरक्षक 1054 हिमांशु चौहान, आरक्षक 3753 रितेश परमार, आरक्षक 3485 कमल रावत का सराहनीय योगदान रहा है।

Spread the love

इंदौर