Mar 20 2019 /
4:27 AM

कमलनाथ की अनुकरणीय पहल, दुष्कर्म पीड़िता को नहीं खाली करना पड़ेगा आईडीए का इंदौर का मकान

इंदौर। मंदसौर की दुष्कर्म पीड़िता को इंदौर में ida का मकान खाली करने की नौबत आ गई थी, लेकिन जैसे ही मुख्यमंत्री कमलनाथ तक इसकी खबर पहुँची, उसके बाद उनके निर्देश पर की गई त्वरित कार्रवाई के बाद अब यह मकान खाली नहीं करना पड़ेगा।

दरअसल गत जून 2018 में तत्कालीन cm शिवराज ने उक्त दुष्कर्म पीड़िता को इंदौर में बसाने की घोषणा की थी। इसके तहत इंदौर विकास प्राधिकरण द्वारा योजना क्रमांक 134 में जिला प्रशासन के निर्देशानुसार मंदसौर की पीड़ित बालिका के परिजनों को आवास का क़ब्ज़ा उपलब्ध कराया गया था।

लेकिन तब से चुनाव के पहले दिसम्बर 18 तक के छह माह में शासन की ओर से विधिवत कोई दिशा निर्देश नही आये। इस कारण ida ने पीड़िता के परिवार को उक्त मकान खाली करने के लिए कह दिया था।

इस मामले में गुरुवार को इंदौर से प्रकाशित सांध्य दैनिक प्रभाव किरण में इस बारे में खबर प्रमुखता से छपने के बाद बात भोपाल में cm कमलनाथ तक पहुँची। उनके द्वारा दिये गए निर्देशों के बाद शाम को ही जिला प्रशासन हरकत में आया और तुरत फुरत शासन की ओर से मकान की राशि ida में जमा भी कराई गई और ida ने तत्काल विधि सम्मत रूप से कार्यवाही पूर्ण कर संबंधित पीड़ित परिवार को योजना क्रमांक 134 में आवासीय प्रकोष्ठ का आरक्षण पत्र जारी कर दिया। इसके चलते अब पीड़िता को यह मकान खाली नही करना पड़ेगा। ida के जनसंपर्क अधिकारी कपिल भल्ला ने उक्त कारवाई की पुष्टि की है।

Spread the love

इंदौर