इंदौर में 1 फरवरी से दूध के भाव में तीन रूपये प्रति लीटर की बढोतरी, इन्दौर दूध विक्रेता संघ का निर्णय

इन्दौर। इंदौर के दूध उपभोक्ताओं के लिए यह खबर महंगाई का एक और झटका देने वाली है। इंदौर में आगामी 1 फरवरी से दूध के भाव में तीन रूपये प्रति लीटर की बढोतरी की जा रही हैं। इन्दौर दूध विक्रेता संघ ने यह निर्णय लिया है।


इन्दौर दूध विक्रेता संघ के प्रेस नोट के मुताबिक कार्यकारिणी की बैठक अध्यक्ष भारत मथुरावाला की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई जिसमें विशेष रूप से सांची अमूल व अन्य पैकिंग कम्पनीयों द्वारा उत्पादकों से महंगे दामों पर दूध का क्रय व विक्रय करने के कारण खुले दूध व्यवसायों पर भी इसका असर आने पर चर्चा हुई ।


बैठक में दूध उत्पादकों की वर्तमान परिस्थितियों एवं दुधारू पशुओं की कीमतों पर भी चर्चा की गई ।
जहां कपास्या खली के भाव बढ़ गए हैं वही दुधारू पशुओं की कीमतों में भी वृद्धि होने के कारण एवं अतिवर्षा होने के कारण फसलों का नाश हो जाना दूध के भावो में व्रद्धि होने का विशेष कारण है ।

इन्दौर दुग्ध संघ ( सांची ) का नया सँचालक मंडल गठित होने के बाद संचालक मण्डल ने उत्पादकों से 0 . 50 पैसे प्रति फैट खरीदी भव एवं विक्रय मूल्य में भी व्रद्धि की है एवं अन्य पैकिंग कम्पनियों ने भी दूध के विक्रय भावों में वृध्दि की हैं।

संघ अध्यक्ष भारत मथुरावाला ने बताया कि विधान सभा चुनाव के समय को लेकर में दूध उत्पादकों को 5 . 00 / – प्रति लीटर की सबसिडी देने की घोषणा की गई थी। इससे दूध उत्पादन में प्रोत्साहन मिलता और दूध उपभोक्ताओ को अतिरिक्त भार नहीं पड़ता लेकिन इन्दौर दुग्ध संघ ( सांची ) म . प्र . शासन का उपक्रम होने के कारण वर्तमान सरकार ने दूध उत्पादकों को राहत न देते हुये दुध के क्रय एवं विक्रय भावों में वृद्धि कर दी है जिसका असर खुले दुध के क्रय विक्रय के व्यवसाय पर भी आया है ।

बैठक में सर्वानुमति से सभी सदस्यों ने यह मांग की है कि सरकार अपने वचन पत्र में दूध उत्पादको को दिये गये अपने वचन को पूरा करें और जनहित में उपभोक्ताओं को राहत प्रदान करें ।

संघ के सदस्यों ने एक मत से यह निर्णय लिया है की 1 फरवरी से विक्रेता दूध उत्पादको से ( एफ . एस . एस . ऐ . आई के द्वारा तय किये गये मापदंड अनुसार ) 7 . 00 रूपये प्रति फैट से दूध क्रय करेंगे । एवं उपभोक्ता को दूध का बंदी भाव 1 . 00 रूपया घर पहूँच सेवा सहित 48 . 00 प्रति लीटर से मिलेगा , जिसमें 5 . 50 से 6 फैट गुणवत्ता का दूध उपभोक्ताओं को मिलेगा एवं खुला दुध दुकानों पर पैकिंग व अन्य खर्च दुकानदार उपभोक्ताओं से अलग से लेगा ।

बैठक में प्रमुख रूप से काका नीमा , आशिष पाटोदी , बद्री शर्मा , उमाशंकर जोशी , तलसीराम पाल , कन्हैया जोशी , भानु पुरोहित , रमेश पाटीदार , यशवन्त पुरोहित ने अपने विचार रखे । बैठक का संचालन भोलाशंभु बागौरा ने किया एवं आभार सोहनलाल कप्तान ने किया ।

Spread the love

इंदौर