इंदौर में मूसाखेड़ी के अशोभनीय व्यवहार के वीडियो मामले में नया मोड़, पुलिसकर्मी सस्पेंड, निगमकर्मी को किया कार्यमुक्त, एफआईआर में होगा खात्मा

इंदौर। इंदौर में मूसाखेड़ी के अशोभनीय व्यवहार के वीडियो मामले में नया मोड़ आया है। इसमे सम्बंधित पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया है वही नगर निगमकर्मी को कार्यमुक्त कर दिया गया है। पुलिसकर्मी द्वारा दर्ज एफआईआर में भी खात्मा होगा।


संभागआयुक्त पवन शर्मा के निर्देश पर यह कार्रवाई हुई। इसमे विवाद करने वाले प्रधान आरक्षक सईद खान को निलंबित कर दिया गया है और निगमकर्मी प्रधान सहायक दरोगा अजीत उर्फ सोनू कल्याणे को किया कार्यमुक्त कर दिया गया है।

निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल के मुताबिक चूंकि यह मामला पूर्णतः अनुशासन हीनता का था इसलिए इस मामले में पुलिसकर्मी की ओर से दर्ज एफआईआर में भी खात्मे की कार्रवाई की जा रही है।

संभागआयुक्त ने निर्देध दिए हैं कि सभी विभाग आपसी सामंजस्य और मर्यादाओं में रहकर के काम करें। किसी भी विभाग से जुड़े लोगों का अमर्यादित व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।


उल्लेखनीय है कि गत दिनों मूसाखेड़ी चौराहे पर नगर निगम की टीम द्वारा मास्क नही लगाने वालों के खिलाफ चलाई जा रही मुहिम में ऊतक पुलिसकर्मी व निगमकर्मी के बीच विवाद, गालीगलौज का वीडियो सोशयल मीडिया पर वायरल हुआ था।

उसके बाद पुलिसकर्मी सईद की रिपोर्ट पर एफआईआर हुई थी। इससे आक्रोश निगमकर्मियों ने विरोध प्रदर्शन कर एकतरफा कार्रवाई बताया था। मामला वरिष्ठ अफसरों तक जाने के बाद अब इसमे यह नया मोड़ आया है।

Spread the love

4

इंदौर