Dec 09 2022 / 7:08 PM

सार्क देशों को आतंकवाद को खत्म करने के लिए प्रभावी कदम उठाने चाहिए: पीएम मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की ओर इशारा करते हुए कहा कि सार्क देशों के बीच अधिक सहयोग के लिए भारत की कोशिशों को बार-बार आतंकवाद के खतरों से चुनौती मिली है। सार्क की स्थापना के 35वीं वर्षगांठ पर सार्क सचिवालय को लिखे खत में उन्होंने कहा कि सभी सदस्य देशों को क्षेत्र में आतंकवाद और इसको समर्थन देने वाली ताकतों को खत्म करने के लिए प्रभावी कदम उठाने चाहिए। ऐसी कोशिशें आपस में विश्वास पैदा करेंगी और सार्क को मजबूत बनाएंगी।

पीएम मोदी ने अपने खत में लिखा कि सार्क ने प्रगति की है लेकिन बहुत कुछ किए जाने की आवश्यकता है। हमारी आपस में सहयोग की बढ़ती कोशिशों को आतंकी घटनाओं और खतरे से लगातार चुनौती मिली है। ऐसा माहौल सार्क की पूर्ण क्षमता को साकार करने की हमारे साझा मकसद में बाधा पैदा करते हैं। ऐसे में यह महत्वपूर्ण है कि सभी सदस्य देश आतंकवाद और इसे समर्थन देनी वाली ताकतों को हराने के लिए प्रभावी कदम उठाएं। पिछले तीन साल से भारत ने खुद को सार्क सम्मेलनों से अलग रखा हुआ है। उसका कहना है कि सार्क के सदस्य देश पाकिस्तान से संचालित आतंकी गुटों से क्षेत्र की सुरक्षा को चुनौती मिल रही है।

Share with

INDORE