डॉ तोगड़िया की यह कैसी रामभक्ति…

इंदौर। अयोध्या में राम मंदिर बनाने के नाम पर तमाम बड़ी बड़ी बातें करने वाले डॉ. प्रवीण तोगड़िया का इंदौर में अलग ही रूप सामने आया।

इसमे उन्होंने एक मंदिर में 108 बार राम नाम लिखने की परंपरा का ही पालन नही किया।

हुआ यूं कि इंदौर के वैभव नगर स्थित राम का निराला धाम मंदिर में प्रवेश के लिए 108 बार राम का नाम लिखने की परंपरा है। मंदिर में जगह-जगह राम नाम लिखने की शर्त वाले बोर्ड भी लगाए गए हैं।

गत सोमवार की सुबह यहां दर्शन के लिए डॉ तोगड़िया पहुँचे तो 108 बार राम नाम लिखे बिना ही अंदर जाने लगे।

मंदिर के पुजारी प्रकाश वागरेचा ने जब उनसे कहा कि राम नाम तो लिखना ही पड़ेगा तो उन्होंने 108 की बजाय मात्र एक बार ही श्रीराम लिखा।

बताते हैं कि तोगड़िया के इस रवैये से पंडित और श्रद्धालु नाराज हो गए। लोगों का कहना था कि उनकी ये कैसी रामभक्ति है?

राम के नाम पर बड़ी बड़ी बातें करने वाले को 108 बार राम लिखने में क्या दिक्कत थी? क्यों उन्होंने मन्दिर की इस परम्परा का निर्वाह नहीं किया…?

Spread the love

इंदौर