Dec 07 2021 / 2:42 AM

मप्र में परिवहन विभाग का तीन दिवसीय ‘सुराज दिवस’ 27 से 29 सितंबर तक, आमजन की समस्याओं के निराकरण की दिशा में बड़ा कदम, 76 हजार से अधिक ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस बने

भोपाल मध्यप्रदेश का परिवहन विभाग मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के नेतृत्व व परिवहन आयुक्त मुकेश जैन की अगुवाई में नवाचार के जरिये नित नए आयाम गढ़ रहा है। विभाग का प्रयास है कि प्रदेश की जनता को परिवहन से जुड़ी सेवाओं का लाभ सरलता और सहजता से मिलता रहे। इसी तरह के प्रयासों को अमलीजामा पहनाने की कड़ी में मध्यप्रदेश का परिवहन विभाग 27 सितंबर से ‘सुराज दिवस’ का आयोजन करेगा।

परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत का मानना है कि आम जनता के लिए सुशासन सुनिश्चित करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका आमजन की समस्याओं का त्वरित निराकरण करना है। मध्यप्रदेश शासन द्वारा इन दिनों ‘सुराज पखवाड़े’ का आयोजन पूरे प्रदेश में किया जा रहा है। इसी कड़ी में परिवहन विभाग मध्यप्रदेश द्वारा 27 से 29 सितंबर तक तीन दिवसीय ‘सुराज दिवस’ का आयोजन किया जा रहा है।


‘सुराज दिवस’ के सफल आयोजन हेतु प्रदेश के परिवहन आयुक्त मुकेश जैन द्वारा सभी क्षेत्रीय परिवहन अधिकारियों एवं चेकपोस्ट प्रभारियों के लिए विस्तृत निर्देश जारी किए गए हैं। सुराज दिवस के तीन उक्त दिवसों में सभी परिवहन कार्यालयों में परिवहन अधिकारी अपने कार्यालय में सीएम हेल्पलाइन से प्राप्त प्रकरणों के शिकायतकर्ताओं को व्यक्तिगत रुप से कार्यालय में बुलाकर शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण दर्ज कराएंगे। सभी संभागीय परिवहन उपायुक्त को भी उक्त ‘सुराज दिवस’ कार्यक्रम का दैनिक रूप से पर्यवेक्षण करने के निर्देश जारी किए गए हैं। परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने आमजन के मध्य विभाग की पारदर्शी एवं सुशासन की छवि को और अधिक मजबूत बनाने हेतु प्रारंभ की गई परिवहन हेल्पलाइन के बारे में भी जानकारी जनता को उपलब्ध कराने के संबंध में निर्देशित किया है।

76 हजार से अधिक लर्निंग लाइसेंस बने

परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने बताया कि विभाग द्वारा हाल ही में प्रारंभ की गई ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस योजना के तहत अब तक 94571 आवेदकों ने लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन किया है तथा 76292 आवेदक लर्निंग लाइसेंस प्राप्त कर चुके हैं। सूरज दिवस आयोजन के समय ऐसे आवेदकों की भी शिकायतों का निराकरण करने के लिए परिवहन अधिकारियों को निर्देशित किया गया है, जिन्हें ऑनलाइन प्रक्रिया में किसी भी तरह की कठिनाई आ रही है।

Spread the love

Indore