इंदौर में बन्द ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने के लिए 40 हजार की रिश्वत लेते हुए पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का सहायक यंत्री सिकरवार रंगे हाथों गिरफ्तार


इंदौर। इंदौर में बन्द ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने के लिए 40 हजार की रिश्वत लेते हुए पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का सहायक यंत्री सिकरवार लोकायुक्त पुलिस द्वारा रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

आरोपी का नाम मोहन सिंह सिकरवार पिता भैरव सिंह सिकरवार है जो सहायक यंत्री (उच्च दाब संधारण) पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड इंदौर में पदस्थ है। इस मामले में आवेदक राजेंद्र राठौर पिता कैलाश राठौर निवासी 774 कृष्णा पैराडाइज एबी रोड इंदौर द्वारा शिकायत की गई थी।

मामला इस प्रकार है कि गणेश बाग कॉलोनी इंदौर निवासी लक्ष्मी सोनी पति ओम प्रकाश सोनी के घर के सामने एमपीईबी का ट्रांसफार्मर जो बंद पड़ा हुआ है उसको शिफ्ट कराने के लिए पोलो ग्राउंड ऑफिस में सहायक यंत्री (उच्च दाब संधारण) मोहन सिकरवार द्वारा ₹50000 रिश्वत की मांग की जा रही थी।

बातचीत के दौरान ₹40000 लेना तय हुआ जिसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस को की गई। इस पर आज एसपी लोकायुक्त इंदौर एसएस सराफ के निर्देशन में सहायक यंत्री मोहन सिकरवार को पोलो ग्राउंड स्थित उनके कार्यालय में ₹40000 की रिश्वत लेते हुए ट्रेप किया गया । उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण संशोधित अधिनियम 2018 की धारा 7 के तहत कार्रवाई जारी है।

Spread the love

9

इंदौर