Dec 08 2022 / 1:38 AM

गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

मुंबई। दिग्गज तथा बड़ी कंपनियों में बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार गुरुवार को लगातार तीसरे दिन टूटता हुआ डेढ़ सप्ताह के निचले स्तर पर आ गया। बिकवाली के दबाव में बीएसई का सेंसेक्स 297.50 अंक यानी 0.72 प्रतिशत की गिरावट के साथ 41,163.76 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 88 अंक यानी 0.72 प्रतिशत टूटकर 12,126 अंक पर आ गया। यह दोनों का 16 दिसंबर के बाद का निचला स्तर है। मझौली कंपनियों में बिकवाली कुछ कम रही जबकि निवेशकों ने छोटी कंपनियों में पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 0.13 प्रतिशत फिसलकर 14,800.63 अंक पर बंद हुआ।

वहीं स्मॉलकैप 0.38 प्रतिशत की बढ़त में 13,435.02 अंक पर पहुँच गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और एलएंडटी ने शेयर बाजार पर सबसे ज्यादा दबाव बनाया। ऊर्जा क्षेत्र की कंपनियों में निवेशकों की धारणा कमजोर रहने से रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर करीब दो फीसदी लुढ़क गये। दूरसंचार और पूँजीएत वस्तुओं के समूहों का सूचकांक भी एक से दो फीसदी के बीच टूटा। सेंसेक्स 82.54 अंक की तेजी के साथ 41,543.80 अंक पर खुला, लेकिन इसके बाद सूचकांक के ग्राफ में लगातार उतार का रुख रहा।

बिकवाली के दबाव में एक समय यह 41,132.89 अंक तक टूट गया था। अंत में गत दिवस की तुलना में 297.50 अंक नीचे 41,163.76 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,695 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,323 के शेयर हरे निशान में और 1,198 लाल निशान में रहे जबकि 174 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये।

निफ्टी 2.75 अंक की मामूली गिरावट में 12,211.85 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 12,221.55 अंक और निचला स्तर 12,118.85 अंक रहा। कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस की तुलना में 88 अंक उतरकर 12,126.55 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 36 कंपनियों के शेयर लाल निशान में और शेष 14 कंपनियों के हरे निशान में रहे।

Share with

INDORE