Aug 18 2022 / 7:45 AM

Category: धर्म-दर्शन

इंदौर के कांच मंदिर के सौ वर्ष पूर्ण होने व महावीर जन्म कल्याणक के अवसर पर 14 अप्रैल को निकलेगी भव्य स्वर्ण पालकी यात्रा


इंदौर। इंदौर के कांच मंदिर के सौ वर्ष पूर्ण होने व महावीर जन्म कल्याणक के अवसर पर 14 अप्रैल को भव्य स्वर्ण पालकी यात्रा निकलेंगे। यह यात्रा कांच मंदिर प्रांगण से प्रात:साढ़े छ

चैत्र नवरात्रि 2 अप्रैल से, इस बार किसी तिथि की वृद्धि या क्षय नही होने से नवरात्रि पूरे 9 रहेंगे, ये रहेंगे घट स्थापना के मुहूर्त

काली काली महाकाली कालिके परमेश्वरी।
सर्वानन्दकरी देवी नारायणि नमोऽस्तुते।।

हिन्दु नववर्ष, राक्षस नामक शुभ विक्रम संवत् 2079 एवं वासंतिक (चै

भरतरी भाऊ खंडागले की स्मृति में आयोजित समारोह में संन्त तुकारामजी को गरुड़ पक्षी पर भेजा गया बेकुठंधाम देखे वीडियो

खबर दिनेश सिह ठाकुर ✍️
इन्दौर । पांडुरंग भजन मंडल नेहरू नगर द्वारा जगतगुरू संत तुकाराम बीज महोत्सव का आयोजन विगत 47 वर्षों से नेहरू नगर में मनाया जाता है।<

इंदौर जैन समाज के युवा रचने जा रहे इतिहास, 9 मार्च को विशेष ट्रेन से निकलेगी 1251 यात्रियों की सम्मेद शिखर जी की यात्रा , पहली बार तीर्थ क्षेत्र पर निकलेगी फाग यात्रा

इंदौर। इंदौर दिगम्बर जैन समाज के युवा इतिहास रचने जा रहे है। 9 मार्च से 15 मार्च तक सकल दिगम्बर जैन समाज युवा-महिला प्रकोष्ठ, इंदौर द्वारा जैन समाज के सबसे बड़े तीर्थ सम्मेद शिखर

खाटूश्यामजी का लक्खी मेला कल से,जानिए कैसी रहेगी मेले की व्यवस्था

जयपुर: खाटूश्याम मंदिर समिति ने खाटू मेला 2022 को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस मेले में लाखों भक्तों के आने की अनुमान है। 6 मार्च से खाटूश्यामजी में लक्खी मेला शुरू हो रहा है।

माघ पूर्णिमा आज, जानिए शुभ मुहूर्त और महत्व

माघ महीने की पूर्णिमा तिथि को माघ पूर्णिमा के रूप में जाना जाता है। माघ को सबसे पवित्र महीनों में से एक माना जाता है और इसलिए माघ पूर्णिमा का महत्व है। माघ के हिंदू महीने में पूर्णिमा

महाशिवरात्रि 2022: जानें शुभ मुहूर्त, महत्व, पूजा-विधि

नई दिल्ली। देवों के देव महादेव का पर्व महाशिवरात्रि मार्च महीने के पहले दिन ही पड़ने वाला है। इस दिन श्रद्धालु भगवान शिव का व्रत रखते हैं और पूरे विधि-विधान से उनकी पूजा करते ह

भीष्म अष्‍टमी 2022: जानें शुभ मुहूर्त और महत्‍व

माघ शुक्ल अष्टमी महान भारतीय महाकाव्य, महाभारत के सबसे प्रमुख पात्रों में से एक भीष्म पितामह की पुण्यतिथि है और इस दिन को भीष्म अष्टमी के रूप में जाना जाता है। इस बार भीष्‍म अष्‍टमी 8

अचला सप्तमी 2022: जानिए पूजा मुहूर्त और महत्व

हिन्दू धर्म में हर एक दिन किसी ना किसी भगवान को समर्पित माना जाता है। हर एक देवी देवता को जो भी दिन समर्पित हैं, उनको भक्त भी खास रूप से पूजा-अर्चना के साथ मनाते हैं। ऐसे में माघ का मास प

गुप्त नवरात्रि 2022: जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

साल में 4 नवरात्रि होती हैं, इनमें से दो गुप्त नवरात्रि होती हैं। पहली गुप्त नवरात्रि माघ के महीने में पड़ती है और दूसरी आषाढ़ माह में होती हैं। गुप्त नवरात्रि पर मां दुर्गा के दस महाव