Category: ब्लॉग

गिरती अर्थव्यवस्था और ‘भागवत’ ज्ञान !

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत देश के नए अर्थशास्त्री बनकर उभरे हैं। वे अपने ही अंदाज़ में अर्थव्यवस्था के अर्थ जनता तक पहुंचाने को आमादा दिखे।

संघ प्रमुख का विजयदशमी

एक पुलिसकर्मी का संदेश, अपनी पीड़ा जताते हुए मीडिया कर्मी के नाम, ‘हमारी समस्याएं सरकार तक पहुँचा दो…..’

प्रिय पत्रकार महोदय,

इस पत्र के माध्यम से मैं पुलिस कर्मियों की समस्याएं सरकार द्वारा हल करवाने के लिए आप की कलम के साथ की आवश्यकता महसूस होती है। 18 वी स

रावण मत जलाओ . . . कुछ तो रावण बनकर दिखाओ. . .

आज दशहरा मनाओगे . . . किस रावण को जलाओगे . . . जिसने अपनी कठिन तपस्या से भगवान से अमरत्व कावरदान पाया . . . जिसने दस बार अपना शीश काटकर शिव को चढ़ाया . . . जिसने अपनी आंतों की माला बनाकर भगवान को सजाया . . .

मोदी की आंधी चुरा ले गई कांग्रेस का गांधी…

मोदी ने क्या दिमाग पाया . . . पहले सरदार पटेल को हथियाया . . . स्टैच्यू ऑफ यूनिटी बनाया . . . देश की एकता और राज्यों के विलीनीकरण का मसीहा बताया . . . . लौह-पुरुष का ऐसा डंका बजाया कि उनका अक्स कांग्रेस म

महापौर ही जब कूड़े के ढेर से निकलकर आएगा..तो सड़कों का कचरा कैसे साफ हो पाएगा..

अब गली-मोहल्ले के नेता महापौर चुनेंगे... षड्यंत्रों, साजिशों और भ्रष्टाचार का ताना - बाना हर दिन बुनेंगे... जो महापौर पार्षदों के इशारों पर नहीं चलेगा वो निगम में नहीं टिकेगा... कांग्रेस ने जनता क

ये दोस्ती कहीं दुश्मनी न बन जाए . . . मोदी ने खेला तो ट्रंप कार्ड है , पर कहीं ताश ही न बदल जाए . . .

मोदी अमेरिका में मंच सजा रहे हैं . . . दुनिया को अपनी ताकत बता रहे हैं . . . पाकिस्तान को डरा रहे हैं . . . ट्रंप भी मंच पर आ रहे हैं और भारत - अमेरिका दोस्ती की प्रगाढ़ता का इतिहास बना रहे हैं . . . लेकिन हक

दुआएं तो बहुत ले लीं उम्रदराजी की… अब कुछ सुध भी ले लें उम्मीदों के श्मशान की..

जिस शोर मेें है तेरी चाहत का समां... उस शोर में कई चीखें भी दफन हंै... ढूंढते थे जहां उम्मीद-ए-जिंदगी, वहां मिलता अपनों का कफन है... कल देशभर ने मोदीजी का जन्मदिन मनाया... कोई झूमता तो कोई नाचता-गाता नज

वो पांच पांडव….. यहां तीन नेताओं का तांडव… अब कांग्रेस बनी द्रौपदी का होगा चीरहरण

वो चोर है, हम सिरमौर है... वो बेईमान है, हममें ईमान है... वो खोटा है, हमसे छोटा है और पता नहीं क्या-क्या संदेश देते कमलनाथ के मंत्री उमंग सिंघार अपने ही दल के नेताओं के चरित्र का श्रृंगार किए जा रहे ह