Jan 23 2019 /
11:30 PM

Category: धर्म ज्योतिष

पौष पूर्णिमा पर प्रयागराज कुम्भ में 12 बजे तक 40 लाख ने डुबकी लगाई

प्रयागराज। सोमवार को कुंभ के दूसरे प्रमुख स्नान पर्व पौष पूर्णिमा पर दोपहर 12 बजे तक लगभग 40 लाख भक्तों ने डुबकी लगा ली है। जिस तरह से भीड़ बढ़ती ही जा रही है, उम्मीद व्यक्त की जा रही है कि श

21 जनवरी को चंद्र ग्रहण लेकिन भारत में नहीं दिखेगा, कोई सूतक नहीं

21 जनवरी सोमवार को साल 2019 का पहला चंद्रग्रहण लगने वाला है। लेकिन चूंकि यह भारत में नहीं दिखाई देगा इसलिए इसका यहां कोई सूतक नहीं रहेगा। इस बार चंद्रमा की राशि कर्क में यह ग्रहण बन रहा है। कर्क

19 जनवरी को उदय होंगे शनिदेव

करीब 33 दिन अस्त रहने के बाद शनिदेव 19 जनवरी शनिवार को सुबह 8.28 बजे उदय हो रहे है। इसके बाद इस साल 2019 के अंत तक शनिदेव दिव्य अवस्था में रहेंगे। इस बीच साल 2019 के मध्य में शनि की वक्रीय तथा मार्गीय दृष्ट

पहले शाही स्नान के साथ प्रयागराज में मंगलवार से शुरू होगा कुम्भ

प्रयागराज। प्रयागराज में कुंभ मेले की शुरुआत भी मकर संक्रांति 15 जनवरी मंगलवार से होने रही है जो पूरे 50 दिन यानी 4 मार्च महा शिवरात्रि तक चलेगा। कुंभ में मंगलवार को तड़के से ही पहले शाही स्नान का

इस बार मकर संक्रांति पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा

हिंदू धर्म में मकर संक्रांति एक प्रमुख पर्व है। भारत के विभिन्न इलाकों में इस त्यौहार को स्थानीय मान्यताओं के अनुसार मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा। बताया जा रहा है कि 14

उच्च शिक्षा मंत्री पटवारी ने इंदौर में नगर कीर्तन में लगाई झाड़ू

इंदौर। रविवार को प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने गुरु गोविंद सिंह के पर्व पर निकले नगर कीर्तन में शामिल होकर झाड़ू लगाई। यह नगर कीर्तन टावर चौराहा से शुरू कर तोपखाना गुरु

वैष्णो देवी भवन, भैरों बाबा पर रविवार को भी जोरदार बर्फबारी, देखें वीडियो

कटड़ा। जम्मू कश्मीर में कटड़ा के त्रिकुट पर्वत पर विराजी मां वैष्णो देवी के भवन से लेकर भैरो बाबा तक रविवार को भी जोरदार बर्फबारी हुई। देशभर से दर्शनों के लिए आये श्रद्धालुओं का उत्साह इ

इंदौर में शनैश्चरी अमावस्या पर शनि मंदिरों में उमड़ी भीड़

इंदौर। शनैश्चरी अमावस्या पर शनिवार को शहर के शनि मंदिरों में श्रद्धालुओं की उमड़ी। इस दौरान मंदिरों में भव्य शृंगार के साथ पूजा-पाठ व अन्य आयोजन संपन्न हुए। सुबह से ही दर्शन के लिए भक्त