Dec 03 2022 / 1:51 PM

नक्सलियों ने मालगाड़ी रुकवाकर इंजन में लगाई आग: किरंदुल-विशाखापट्टनम मार्ग बाधित

दंतेवाड़ा: मंगलवार की रात छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में माओवादियों ने किरंदुल-विशाखापट्टनम रेल मार्ग पर मालागाड़ी के इंजन में आग लगा दी। घटना के बाद मालगाड़ी का ड्राइवर सुरक्षित है। बताया जा रहा है कि मालगाड़ी बैलाडीला से लौह अयस्क लेकर विशाखापट्टनम जा रही थी।मामला भांसी थाना क्षेत्र का है। माओवादियों ने बचेली और भांसी के बीच आगजनी की वारदात को अंजाम दिया।

भांसी के जंगल का इलाका बेहद संवेदनशील माना जाता है। इसी वजह से जो भी रेल यहां से गुजरती है, उसकी रफ्तार काफी कम रहती है। ताकि यहां कोई भी वारदात को अंजाम दिया जाए तो ज्यादा नुकसान न झेलना पड़े। मंगलवार रात को भी मालगाड़ी की रफ्तार धीमी ही थी। माओवादी इसी क्षेत्र में घात लगाकर बैठे थे।जैसे ही मालगाड़ी के आने की खबर हथियारबंद माओवादियों को मिली तो वे जंगल से निकलकर ट्रैक पर आ गए।

उन्होंने बंदूक दिखाकर मालगाड़ी को रोक लिया। इसके बाद पायलट और एक अन्य कर्मचारी को नीचे उतारा। उनसे वॉकी-टॉकी समेत मोबाइल जब्त कर लिया गया। फिर मालगाड़ी के इंजन में आग लगाकर माओवादी जंगल की तरफ चले गए। इधर, वारदात की जानकारी मिलते ही दंतेवाड़ा से DRG के जवानों को मौके के लिए रवाना किया गया है।

इस घटना के बाद से किरंदुल-विशाखापट्टनम मार्ग बाधित हो गया है। मालगाड़ी के जल चुके इंजन को हटाने का काम किया जा रहा है।

Share with

INDORE