Aug 15 2022 / 6:44 PM

हैदराबाद रेप केस: राज्यसभा में बोलीं जया बच्चन- आरोपियों को भीड़ के हवाले कर देना चाहिए

नई दिल्ली। हैदराबाद में महिला वेटरनरी डॉक्टर से दुष्कर्म और हत्या के मामले पर सोमवार को राज्यसभा में चर्चा जारी है। समाजवादी पार्टी की राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने हैदराबाद घटना पर कहा, ‘मुझे लगता है कि यह समय ऐसा है जब लोग चाहते हैं कि सरकार उचित और निश्चित जवाब दे। इस तरह के हैवानों (दुष्कर्म और हत्या के आरोपी) को जनता को सौंप दो और इनकी पीट-पीटकर हत्या कर दो। सरकार को बताना चाहिए कि निर्भया और कठुआ दुष्कर्म मामले में अब तक क्या हुआ? मामले में सुरक्षा से जुड़े लोगों को जवाब देना चाहिए।

विचारधारा में बदलाव की जरूरत है- नायडू
राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने महिलाओ के खिलाफ होने वाले अपराधों पर कहा, ‘जो आवश्यकता है वह नया विधेयक नहीं है। हमें राजनीतिक इच्छाशक्ति, प्रशासनिक कौशल, विचारधारा में बदलाव की जरूरत है और इसके बाद सामाजिक बुराई को मारनना चाहिए।

सरकार को दोषियों से सख्ती से निपटना चाहिए- आजाद
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि राज्य सरकार को दोषियों से सख्ती से निपटना चाहिए। उन्होंने कहा कि केवल कानून बनाने से समस्या हल नहीं होगी। ऐसे मामले में हर तबके को खड़ा होना होगा। भाजपा की तरफ से प्रभात झा और आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने राज्यसभा में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर चर्चा की मांग की थी। तेलुगुदेशम पार्टी (तेदेपा) ने आंध्र प्रदेश में नेताओं और दलितों के उत्पीड़न पर चर्चा का प्रस्ताव दिया। वहीं सीपीआई ने नियम 267 के तहत प्याज और दाल की कीमतों में बढ़ोतरी पर कार्यवाही स्थगित करने की मांग की।

आरोपियों को 31 दिसंबर से पहले मौत की सजा- विजिला सत्यनाथ
हैदराबाद की घटना पर एआईएडीएमके की सांसद विजिला सत्यनाथ ने कहा, ‘देश महिलाओं और बच्चों के लिए सुरक्षित नहीं है। इस अपराध को करने वाले चार आरोपियों को 31 दिसंबर से पहले मौत की सजा दी जानी चाहिए। एक फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाई जानी चाहिए। न्याय में देरी अन्याय होता है।

लोकसभा में उठाया गया मुद्दा
लोकसभा में हैदराबाद की पशु चिकित्सक के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले को उठाया गया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा, ‘देश में जो घटनाएं घट रही हैं उसपर संसद भी चिंतित है। मैंने प्रश्नकाल के बाद इस पर चर्चा की अनुमति दी है।’

Share with

INDORE