Feb 19 2019 /
5:37 AM

इंदौर के मराठी स्कूल में कला संकुल तो खुले लेकिन खेल मैदान को उजाड़ कर उसका उपयोग पार्किंग में न किया जाए

इंदौर। इंदौर के मराठी स्कूल में खुल रहे कला संकुल का स्वागत है, लेकिन खेल मैदान को उजाड़ कर उसका उपयोग पार्किंग में न किया जाए। इस सम्बंध में खिलाड़ियों व खेल संगठनों की ओर से सांसद सुमित्रा महाजन को दिए गए ज्ञापन में कहा गया कि शहर का एक मात्र उक्त खेल ग्राउंड जो कि सब से पुराना है जो 1942 से चलाया जा रहा है। यहां वॉलीबॉल, कबड्डी, कराते बॉक्सिंग आदि के अलावा कई लोग वॉकिंग करते है और यह लाल मिट्टी का अखाड़ा है जो सालों पुराना है।

यहाँ से कई राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय खिलाडी इस जगह से खेल कर निकले है और इस ग्राउंड से विक्रम और एकलव्य अवार्ड से सम्मानित हुए है जहाँ पर आज भी स्टेट और नैशनल लेवल के आयोजन किए जाते है।

नगर निगम एवं केंद्र की स्मार्ट सिटी के अंतर्गत यह पर कला संकुल, कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स और औडिटोरयम बनाने की योजना बनायी है जिसका शुभारंभ सांसद सुमित्रा महाजन द्वारा किया जा रहा है। इसे लेकर खेल संगठन से जुड़े लोग व पूर्व खिलाड़ियो द्वारा सुमित्रा महाजन से मिल कर आपत्ति दर्ज कराते हुए मांग की गयी कि खेल का उपयोग कभी भी पार्किंग और अन्य उपयोग में न लिया जाए।तथा दूसरे चरण में यहां बाकी खाली जमीन (खेल मैदान ) पर विशाल सर्वसुविधायुक्त खेल संकुल बनाया जाए और मैदान को सुरक्षित रखा जाए।

ज्ञापन देने वालीं में मुख्य रूप से दीपक जोशी पिंटू ,वॉलीबॉल के लक्ष्मण परदेसी, नियाज़ मो ख़ान,अनुरोध जैन, कबड्डी से घनश्याम चौधरी किक बाक्सिंग से सिद्दिक अंसारी शाहरुख़ खान, मंसूर अली, प्रकाश गोड, गुलरेज अली, अच्छे पहेलवान, मनोज सुले, भूपेंद्र चौहान, पार्षद निलेश पटेल अनूप शुक्ला ,अनिल बारिया, विशाल चतुर्वेदी अभिजित पांडे, आनंद भवे, बंटी मोठ, सनी पठारे, दिनेश धीमान अन्ना मिश्रा जयेश व्यास, केके कुशवाह, फ़राज़ अली, राहुल रॉय ,गिरिश मुछाल, विशाल ,अमन पोरवाल नसीम बनो एवं बड़ी संख्या में खिलाड़ी गण आदि उपस्थित थे

Spread the love

इंदौर