Jan 24 2019 /
12:07 AM

प्रेमी जोड़े का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाला बेलदार गिरफ्तार

इंदौर। इंदौर पुलिस की वी केयर फॉर यू टीम ने एक ऐसे युवक गिरफ्तार किया है जो एकांत में मिलने वाले जोड़ें का वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल कर रहा था। आरोपी आईडीए बिल्डिंग में बेलदारी करता है। उसका नाम अनिल पिता हीरालाल नायक उम्र 18 साल निवासी नेपानगर जिला बुरहानपुर है जो वर्तमान में इंदौर में स्कीम 136 में रहता है।

एडिशनल एसपी क्राइम अमरेंद्र सिंह ने बताया कि एकांत में मिलने पहुंचे प्रेमी जोड़े का उसने छुपकर बना वीडियो बना लिया था और युवती को ब्लैकमेल कर रहा था। वी केयर फार यू कार्यालय इंदौर में थाना लसूड़िया क्षेत्रांतर्गत रहने वाली आवेदिका 16 वर्षीय किशोरी पारूल (परिवर्तित नाम) ने शिकायत की थी कि वह अपने प्रेमी युवक से मिलने के लिये आईडीए बिल्डिंग के पास गई थी, उस दौरान किसी अज्ञात व्यक्ति ने उसका व उसके प्रेमी का निजी पलों के व्यतीत करने के समय का वीडियो बना लिया था।

जब वह अपने प्रेमी से मिलने के बाद वापस अपने घर जा रही थी तब उस उसने मुझे रास्ते मे रोका और तत्समय बनाये गये वीडियो के बारे मं बताया। इससे वह भयभीत हो गई तथा घबराकर अनावेदक अज्ञात व्यक्ति से उसके द्वारा बनाये गये वीडियों को डिलीट करने की मिन्नतें करने लगी जिस पर उक्त आरोपी ने आवेदिका किशोरी से उसका निजी मोबाईल नंबर तथा अन्य जानकारी मांगी जो उसने घबराहट में दे दी।

बाद में आरोपी द्वारा इसे दुर्भावनापूर्वक वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उससे मिलने, बात करने तथा उसकी सहेलियो से उसकी दोस्ती करवाने के लिये दबाव बनाया जाने लगा। शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपी अनिल नायक ने अपना जुर्म कबूल किया जिसके बाद अग्रिम वैधानिक कार्यवाही हेतु आरोपी को पकड़कर थाना लसूड़िया पुलिस के सुपुर्द किया गया।

पूछताछ मे उसने बताया कि वह वर्तमान मे स्कीम नंबर 136 मे निवास करता हैं और बेलदारी का काम करता है। वह आई.डी.ए बिल्डिंग मे वह काम कर रहा था इसी दौरान किशोरी को उसके प्रेमी के साथ आता देख उसने दोनों का पीछा किया था बाद दोनों के अंतरंग में खो जाने के बाद छुप के उसने उन दोनों का वीडियो बना लिया था तथा बाद में वह उसने आवेदिका को रोककर वीडियो वायरल करने की धमकी देकर आवेदिका का मोबाईल नंबर प्राप्त कर उससे मिलने तथा अन्य लडकियों से दोस्ती करवाने के लिए दबाव बनाने लगा था।

Spread the love

इंदौर