राजवाड़े पर जला देवकीनंदन ठाकुर का पुतला

इंदौर। सवर्ण समाज द्वारा किए जा रहे आंदोलन व भारत बंद के बाद अब आरक्षित वर्ग भी मैदान पकड़ रहा है। इसी के चलते बुधवार सुबह शहर के मध्य राजवाड़ा पर भागवताचार्य देवकीनंदन ठाकुर का पुतला जलाया गया। भीम सेना के लोगों ने देवकीनंदन ठाकुर का पुतला जलाने के साथ ही नारेबाजी भी की। गौरतलब है कि एक दिन पहले आगरा में देवकीनंदन ठाकुर को सवर्ण समाज के समर्थन में प्रेस कॉन्फ्रेंस लेने के पूर्व पुलिस ने धारा 151 में गिरफ्तार कर बाद में रिहा कर दिया था। जिस तरह से देवकीनंदन ठाकुर सवर्ण समाज के पक्ष में खुलकर आए है, उसका आरक्षित वर्ग द्वारा अब उक्त विरोध शुरू किया गया है।

दरअसल कथा वाचक देवकी नन्दन ठाकुर एससी एसटी एक्ट का विरोध कर रहे हैं और उसे हटाने की माग कर रहे है इसी को लेकर आज बलाई समाज और भीम सेना ने विरोध स्वरूप उनका पुतला दहन किया और आरोप लगाया है कि देवकी नन्दन हिन्दू धर्म को बांटने की कोशिश कर रहे है एससी एसटी एक्ट से समाज सुधार की दिशा में है अगर यह यह हटाया गया तो दलितों के साथ भेदभाव और बढ़ेंगे आज भी दलित को घोड़ी पर बैठने नही दिया जाता उन्हें मुछे नही रखने दी जाती उन्हें मन्दिरो में नही आने दिया जाता है। बलाई समाज अध्यक्ष लता पवार ने देवकी नन्दन पर निशाना साधते हुवे कहा कि कथा वाचक हिन्दू एकता को तोड़ने का षड्यंत्र कर रहे है।

देखिए वीडियो-

Spread the love

इंदौर