चार दिन बाद फिर सोमवार को भारत बंद, इंदौर में व्यापक समर्थन

इंदौर। 4 दिन के अंतराल में सोमवार 10 सितंबर को पुनः भारत बंद का आह्वान किया गया है। इस बार कांग्रेस द्वारा पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में किए गए इस बंद के आह्वान को इंदौर में भी तमाम व्यापारी संगठनों ने व्यापक समर्थन देने की घोषणा की है। इसके पूर्व 6 सितंबर गुरुवार को सवर्ण समाज की ओर से एससी एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में बंद का आह्वान किया गया था। अब 10 सितंबर सोमवार को कांग्रेस द्वारा राष्ट्रव्यापी बंद का ऐलान किया है। इंदौर में बंद को अनेक व्यापारी एसोसिएशन ने समर्थन दिया है। सोमवार को सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक शहर के सभी प्रमुख बाजार बंद रहेंगे। बंद के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।
सोमवार को होने वाले बंद के लिए अहिल्या चेंबर ऑफ कॉमर्स ने समर्थन देने का ऐलान किया है। इसके चलते सोमवार को कपड़ा बाजार, सराफा, सियागंज, खजूरी बाजार, बर्तन बाजार सहित सभी प्रमुख बाजारों के व्यापारी अपनी दुकानें बंद रखेंगे। कांग्रेस के पदाधिकारियों का कहना है कि जनता की जेब काटकर खजाना भरने की प्रवृत्ति ईंधन के बढ़ते दामों की असल वजह है। कांग्रेस नेताओं ने 2014 के भाजपा के चुनाव अभियान के प्रचार विज्ञापनों को सामने रखते हुए कहा कि उस वक्त 60 रुपए लीटर के दाम पर हल्ला मचाने वाली भाजपा के साथ टि्वटर पर हाय तौबा करने वाले सेलिब्रिटी भी अब खामोश क्यों हैं। अनेक कांग्रेसियों ने बाजार में घूम कर कल के बंद के समर्थन में पर्चे बांटे और लोगों से अपने संस्थान बंद रखने का अनुरोध किया।

कल CBSE के सभी स्कूल बंद रहेंगे कॉलेजों की परीक्षाएं भी स्थगित

कांग्रेस द्वारा सोमवार 10 सितंबर को किए गए भारत बन्द के आव्हान के तहत इस दिन इंदौर के CBSE के सभी स्कूल बंद रहेंगे। यह जानकारी CBSE संगठन के सचिव मोहित यादव ने दी। इसी तरह देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कल आयोजित परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई है।

पेट्रोल डीलर्स ने भी कांग्रेस के बन्द को समर्थन दिया है। सोमवार सुबह 9 से 12 तक शहर के पेट्रोल पंप बन्द रहेंगे।

Spread the love

इंदौर