Jun 26 2019 /
7:19 AM

भाजपा में इंदौर से शेखावत के साथ गोपी नेमा का नाम भी चर्चा में है कांग्रेस में पंकज, सत्यनारायण के नाम

भोपाल। मध्य प्रदेश की औद्योगिक “राजधानी” इंदौर लोकसभा सीट पर इस बार कांग्रेस व भाजपा दोनों के लिए प्रत्याशी घोषित करना टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। दोनों ही दलों में रोजाना नए-नए नाम सामने आ रहे है।
आठ मर्तबा की सांसद सुमित्रा महाजन की उम्मीदवारी में हो रही अप्रत्याशित देरी ने बीजेपी में कई स्थानीय नेताओं को अपनी दावेदारी करने का मौका दे दिया है।

पूर्व में चल रहे मालिनी गौड़ कैलाश विजयवर्गीय, रमेश मेंदोला व उषा ठाकुर के नामों के बाद अब 2 नाम तेजी से उभर कर आए है। इनमें भंवर सिंह शेखावत के अलावा भाजपा के मौजूदा नगर अध्यक्ष पूर्व विधायक गोपीकृष्ण नेमा का नाम भी शामिल है।

कहा जा रहा है कि यदि ताई को टिकट नहीं मिलता है तो ताई गोपी नेमा के नाम पर सहमत हो सकती है। इधर शेखावत के समर्थन में माहौल बनता दिखाई दे रहा है।

कांग्रेस में ऊहापोह बरकरार

इधर कांग्रेस ने अभी इंदौर, गुना, विदिशा और ग्वालियर सहित 7 सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा रोक ली है। बताया जाता है कि पार्टी ने इंदौर, विदिशा और ग्वालियर का निर्णय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया है।

इंदौर से स्थानीय दावेदारों में पंकज संघवी व सत्यनारायण पटेल की दावेदारी मजबूत मानी जा रही है। ऐसे ही भिंड, राजगढ और धार सीट पर प्रत्याशियों की घोषणा होना भी अभी बाकी है।

कांग्रेस ने मुरैना लोकसभा सीट के लिए रामनिवास रावत को अपना उम्‍मीदवार बनाया है। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को छिंदवाड़ा विस क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव के लिए प्रत्याशी घोषित किया है।

कांग्रेस के चुनाव प्रभारी मुकुल वासनिक में गुरुवार को बताया कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने श्रीकमलनाथ के नाम को मंजूरी दी है। इस सीट से पिछला विस चुनाव कांग्रेस के ही दीपक सक्सेना ने जीता था।

Spread the love

इंदौर