Aug 21 2019 /
11:32 AM

इंदौर के कांग्रेस प्रत्याशी संजय शुक्ला 103 करोड़ के आसामी

इंदौर। यूँ तो इंदौर से विस चुनाव लड़ने वाले अधिकांश प्रत्याशी करोड़पति हैं लेकिन एक नाम ऐसा है जो मालदार होने के मामले में इंदौर ही नहीं संभवतः मध्य प्रदेश में सबसे आगे हैं। ये है क्षेत्र क्रमांक 1 से कांग्रेस के टिकट पर नामांकन पत्र दाखिल करने वाले संजय शुक्ला, जिन्होंने अपनी संपत्ति लगभग 103 करोड बताई हैं।
संजय शुक्ला ने खुद को 103.71 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति का मालिक बताया है. इसके साथ ही वे वह 28 नवंबर को होने वाले चुनावों में किस्मत आजमा रहे प्रदेश के सबसे धनी प्रत्याशियों की फेहरिस्त में शामिल हो गये हैं. जिला निर्वाचन कार्यालय में शुक्ला के जमा कराये हलफनामे के मुताबिक वह 41.35 करोड़ रुपये मूल्य की चल संपत्ति के मालिक हैं, जबकि उनकी अचल संपत्ति का मौजूदा बाजार मूल्य 62.36 करोड़ रुपये है।

उनजे पास करीब 10 किलो सोना भी है। हालांकि, उन पर अलग-अलग बैंकों, व्यक्तियों और वित्तीय संस्थाओं की 27.96 करोड़ रुपये की देनदारी भी है, जिसमें उनके द्वारा लिये गये कर्ज शामिल हैं. इस 12वीं पास उम्मीदवार के नाम 2.03 करोड़ रुपये की सरकारी देनदारी भी है, जिसे उन्होंने अपने हलफनामे में विवादाधीन बताया है।

इंदौर में एक प्रत्याशी ने जमा कराई 10 हजार की चिल्लर

इंदौर में क्षेत्र क्रमांक 3 के एक निर्दलीय उम्मीदवार एडवोकेट दीपक पंवार ने चुनाव लड़ने के लिए 10 हजार रुपये की जमानत राशि के लिए 1-1 रुपये के 10 हजार सिक्के जमा कराए। इस उम्मीदवार ने इंदौर के जिला निर्वाचन कार्यालय के अधिकारियों के सामने 10 हजार सिक्कों का ढेर लगा दिया.

सिक्कों को गिनने में निर्वाचन कार्यालय के पांच अधिकारियों-कर्मचारियों को लगाया गया. इन्होंने डेढ़ घंटों में 10 हजार रुपये के सिक्के गिने।

पवार ने संवाददाताओं को बताया कि वह पेशे से वकील हैं और चुनावों में पहली बार किस्मत आजमाने जा रहे हैं.
जमानत की रकम के रूप में रेजगारी जमा करने का कारण पूछे जाने पर उन्होंने दावा किया कि बाजार में इन दिनों नकदी की खासी किल्लत है और लोगों ने उन्हें चुनावी चंदे के रूप में केवल सिक्के दिये थे.

खुद को स्वर्णिम भारत इंकलाब पार्टी का नेता बताने वाले पवार ने कहा, ‘चुनावी चंदे में नोट नहीं मिलने पर मुझे इन सिक्कों को ही जमानत की रकम के रूप में जमा कराना पड़ा.’

Spread the love

इंदौर