Aug 21 2019 /
10:47 AM

रंगदारी दिखाने के लिये फेसबुक/व्हाट्‌स एप पर हथियारों सहित डालते थे फोटो, दूध डेयरी के अफसर का लड़का भी, इंदौर क्राइम ब्रांच ने छह को पकड़ा

इंदौर। इंदौर क्राइम ब्रांच ने छह ऐसे बदमाशों को पकड़ा है जो रंगदारी दिखाने के लिये फेसबुक/व्हाट्‌स एप पर हथियारों सहित फोटो डालते थे। इनके पास से तीन पिस्टल व तीन रिवाल्वर सहित 6 जिंदा कारतूस बरामद किये गए।

एएसपी क्राइम अमरेंद्र सिंह ने बताया कि इनके नाम हिमांशु पिता सुरेश पटेल नि.137 श्याम नगर मेन सुखलिया, निखिल पिता सोहन यादव नि. 108 परदेशीपुरा इन्दौर, यासिर खान पिता जाकिर खान नि. ट्रेसर विहार ट्रेजर टाउन राजेन्द्र नगर इंदौर, रोहन पिता विलाश वानखेडे नि. 1641/18 नंदानगर परदेशीपुरा, अमित गोंदिया पिता हरीशंकर गोंदिया नि.5/8 परदेशीपुरा इन्दौर और समीर खान पिता करामत खान निवासी 97 नूरी कालोनी इन्दौर है।

इनमे आरोपी हिमांशु पटेल ने कंप्यूटर साईंस में इंजीनियरिंग की है तथा उसके पिता सुरेश पटेल दूध डेयरी माँगलिया डिपो मे अधिकारी के रूप में पदस्थ हैं। उसके विरुध्द पूर्व में थाना हीरानगर मे भी 420 भादवि के तहत अपराध पंजीबध्द हुआ है जिसमें आरोपी हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत पर चल रहा है। आरोपी दोस्तो के सामने हवाबाजी करने के लिये पिस्टल अपने पास रखता था।

आरोपी यासिर ने पूछताछ में बताया कि वह कक्षा 10 वीं मे प्रायवेट फार्म भरकर पढ रहा है तथा पाउडर का नशा करने का आदी है नशा करने के लिये उसने ट्रेजर टाउन टाउनशिप मे एक अलग से फ्लैट ले रखा है तथा अपने दोस्तों को बुलाकर भी नशा करवाता है।

आरोपी यासिर ने बताया कि उसे हथियार रखने का शौक है इसलिये उसने पिस्टल व कारतूस खरीदे थे। आरोपी ने कबूला कि उसने इंदौर देवास बायपास पर हवा मे 05 राउंड फायर किये थे। उसे पिस्टल हाथ में लेकर रंगदारी दिखाने तथा हवाबाजी करने का शौक था इसलिये वह सोशल मीडिया पर भी हथियारो के साथ फोटो पोस्ट करता रहता था।

आरोपी यासिर का पिता गुड्डू मम्मा उर्फ जाकिर खान, शकिर चाचा गैंग के लिये काम करता था तथा जूनी इन्दौर क्षेत्र मे अवैध वसूली किया करता था। आरोपी यासिर के विरुध्द भी थाना जूनीइन्दौर क्षेत्र में मारपीट के 2अपराध पंजीबध्द है। आरोपी यासिर ने ही अपने साथी समीर उर्फ सोनू को भी पिस्टल दिलायी थी।

आरोपी समीर उर्फ सोनू ने बताया कि वह कक्षा 10वीं तक पढ़ा है तथा चोईथराम मंडी मे हम्माली करता है तथा यासिर उसका बचपन का दोस्त है जिसे यासिर ने ही पिस्टल व राउंड दिलाये थे। आरोपी समीर के विरुध्द थाना जूनी इन्दौर में मारपीट के कुल 4 अपराध पंजीबध्द है। आरोपी समीर के पिता करामत खान वर्तमान मे हत्या के मामले मे जेल मे निरूद्ध है।

आरोपी रोहन, निखिल व अमित ने पूछताछ में बताया कि उनका कार्तिक नामक व्यक्ति निवासी नंदानगर से विवाद था इसलिये उन्होंने उसे डराने धमकाने के लिये पिस्टल व रिवाल्वर खरीदी थी तथा उपरोक्त तीनों ने कार्तिक को पिस्टल व रिवाल्वर अड़ाकर डराया भी था हालांकि उक्त मामले मे कार्तिक ने आरोपियों के भय के कारण कोई रिपोर्ट दर्ज नही कराई थी।

तीनों आरोपी रोहन, निखिल व अमित का क्षेत्र में काफी खौफ है तीनों के विरुध्द थाना परदेशीपुरा में अवैध रुप से वसूली करने, मारपीट करने तथा अवैध हथियार रखने जैसे अपराध पंजीबध्द है।उपरोक्त सभी 6 आरोपीगणों से कुल 6 पिस्टल/रिवाल्वर व 6 जिंदा कारतूस जप्त किये गये है।

Spread the love

इंदौर