Sep 23 2019 /
10:48 AM

इंदौर में लूट के इरादे से की थी हत्या, शिनाख्त नहीं हो इसलिए गला रेत दिया था, 4 गिरफ्तार

इंदौर। इंदौर पुलिस ने एक अंधे कत्ल का पर्दाफाश करते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लूट के इरादे से यह हत्या की गई थी और मृतक की शिनाख्त ना हो इसके लिए उसका गला रेत दिया गया था।

पकड़े गए आरोपियों के नाम महेश पिता अपसिंह उम्र 25 साल निवासी ग्राम जमासिंध थाना उदय नगर जिला देवास हाल मुकाम ग्राम केवडेश्वर थाना खुडैल, दीपक पिता फूल सिंह डाबर उंम्र 19 साल निवासी ग्राम मेंहदी खेडा थाना उदय नगर जिला देवास हाल मुकाम स्वास्तिक मसाला फैक्ट्री समता नगर पालदा इंदौर, जितेन्द्र उर्फ पन्ना उर्फ रोहन वर्मा पिता मांगीलाल उम्र 21 साल निवासी ग्राम जमासिंध थाना उदय नगर जिला देवसा हाल मुकाम अरिहंता नगर कालोनी गांधी नगर इंदौर और संतोष पिता खुमसिंह डाबर उम्र 21 साल निवासी ग्राम मेंहदी खेडा थाना उदयनगर जिला देवास हाल मुकाम अरिहंता नगर कालोनी गांधी नगर इंदौर है।

यह था मामला

गत एक सितंबर को प्रेम पिता अनोखीलाल पाटीदार निवासी ग्राम राजधरा के साथ उदय नगर क्षेत्र मे ग्राम गारा घाटी स्थित अपने खेत से काम कर भिंडी की सब्जी लेकर मोटर साईकल क्र. एमपी 09/क्युक्यु 9740 से अपने घर लौट रहा था। पीछे से मृतक का लडका मनोहर भी अलग मोटर साईकल से घर लौट रहा था जोरास्ते मे पडने वाले हनुमान मंदिर पर भण्डारे मे सब्जी देने चला गया और प्रेम अकेला मोटरसाईकल से अपने घर रवाना हुआ लेकिन घर नही पहुँचा। बाद में प्रेम की लाश हनुमान मंदिर के पास नयापुरा के जंगल मे पडी मिली जिसकी गला रेत कर हत्या की गई थी।

विवेचना के दौरान यह तथ्य सामने आय़ा कि आरोपीगण घटना स्थल से मृतक प्रेम पाटीदार की मो सा एमपी 09/क्युक्यु 9740 को भी लूटकर ले गये और जब मो.सा तिल्लौर बुजुर्ग के पास खराब हो गई तो तिल्लौर के पास बनी टापरी पर पूर्व सरपंच महेश दांगी व उसका मित्र तेजसिंह टापरी पर बैठकर बातचीत कर रहे थे तभी चार लडके एक पल्सर मोटर साईकल बिना नंबर की तथा एक मोटर साईकल एमपी 09/क्युक्यु 9740 से आये और महेश दांगी पूर्व सरपंच तिल्लौर बुजुर्ग व उसके मित्र तेजसिंह से पूछा कि यहां शराब कहां मिलेगी तो महेश ने बोला कि तिल्लौर खुर्द मे शराब दुकान है।

वहां चले जाओ। उसके बाद चारो लडको ने मौका पाकर मो.सा.क्र. एमपी 09/क्युक्यु 9740 जो कि मृतक की थी को टापरी के पास खडी की और वहां से महेश दांगी की खडी मो.सा.क्र. एमपी 09-वीई 1526 उठाकर ले गये।
आरोपियों ने कबूला कि वे लूट के इरादे से नया पुरा के जंगल मे चोरी की पल्सर मो.सा से गये थे और मृतक को अकेला देखकर रोका और डंडे से मारपीट कर गिरा दिया और उससे नगदी 04 हजार रूपये लूट लिये। जब आरोपीयो को लगा कि कही मृतक उन्हे पहचान न ले तो उसे खींच कर थोडी दूर जंगल मे ले गये और कटर से गला रेत कर उसकी हत्या कर दी और मृतक की मो.सा भी लूटकर भाग गए।

उक्त अंधे कत्ल का पर्दाफाश करनें मे थाना प्रभारी खुडैल रूपेश दुबे, उनि पीएल शर्मा, उनि राजेश डावर, , प्र.आर. मोहन डावर, प्र.आर.विजय गार्डे, आर. राजकुमार रावत, आर. घनश्याम चौहान, आर. सागर परसाई, आर. राजकुमार पाटीदार, आर. पिन्टू जाट, आर. गजेन्द्र, आर.हरिराम शर्मा, महिला आर. अर्पिता भदौरिया, आर.चालक नवीन की सराहनीय भूमिका रही।

Spread the love

इंदौर