Jun 25 2019 /
3:03 AM

शिवराज सरकार की एक दर्जन से ज्यादा योजनाए होगी एक माह में बंद

इंदौर , प्रदीप जोशी।

मंत्रियों को विभागों के बंटवारे के साथ ही अब प्रदेश की कमलनाथ सरकार पूरे एक्शन मूड में आ गई है। सबसे ज्यादा सक्रियता वित्त मंत्रालय संभालने वाले मंत्री तरुण भनोट ने दिखाई, जिन्होंने पद संभालने के तत्काल बाद शिवराज सरकार की योजनाओं की समीक्षा का काम शुरू कर दिया है।

सरकार के खजाने पर बोझ बनी एक दर्जन से ज्यादा योजनाओं को बंद करने पर लगभग फैसला हो चुका है। गौरतलब है कि शुक्रवार को ही सरकार ने पिछली सरकार की दीनदयाल वनांचल योजना को बंद करने का निर्णय किया था।

अब उन 26 योजनाओं की समीक्षा वित्त विभाग कर रहा है, जिसे शिवराज सरकार ने जोर-शोर से शुरू किया था। हालांकि इन योजनाओं में से करीब आधी योजनाएं कांग्रेस के वचन पत्र में भी शामिल हैं, लिहाजा इन्हें बंद नहीं किया जाएगा। योजनाओं के नाम जरूर बदले जा सकते हैं।

एक माह में बंद की जाएंगी गैर जरूरी योजनाएं

वित्त मंत्री तरुण भनोट ने अधिकारियों की पहली ही बैठक में साफ कह दिया कि पुरानी सरकार की सभी योजनाओं की समीक्षा की जाए।

ऐसी योजनाओं को चिह्नित करने को कहा गया, जिसका लाभ जनता को नहीं मिल रहा और वित्त विभाग पर उसका बोझ पड़ रहा है।

भनोट ने यह भी साफ किया कि उन योजनाओं को तत्काल प्रभाव से बंद करें, जिसे पुरानी सरकार ने अपने कार्यकर्ताओं को उपकृत करने के लिए शुरू किया था।

योजनाएं जिन्हें मिली थी सराहना

शिवराज सरकार की नौ ऐसी योजनाएं थीं, जिन्हें देशभर में न केवल सराहना मिली थी, बल्कि कई राज्यों ने उन योजनाओं का अनुसरण भी किया।

इनमें मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, युवा इंजीनियर-कॉन्ट्रेक्टर योजना, नि:शुल्क पैथोलॉजी जांच योजना, मुख्यमंत्री मजदूर सुरक्षा योजना प्रमुख हैं।

दीनदयाल वनांचल से शुरुआत

जिस दीनदयाल वनांचल योजना को सरकार ने बंद किया, उसका सीधा संबंध वरिष्ठ नेता गौरीशंकर शेजवार से जुड़ा हुआ था। यही नहीं, उनकी डॉ. पत्नी किरण शेजवार उस योजना की पर्यवेक्षक भी नियुक्त की गई थीं।

इन योजनाओं पर सरकार की वक्रदृष्टि

  • दीनदयाल रसोई योजना
  • मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग स्वरोजगार योजना
  • सरदार वल्लभभाई पटेल औषधि वितरण योजना
  • मुख्यमंत्री युवा इंजीनियर, कॉन्ट्रेक्टर योजना
  • मुख्यमंत्री आवास योजना
  • दीनदयाल मोबाइल हॉस्पिटल योजना
  • मुख्यमंत्री खेत तालाब योजना
  • दीनदयाल अंत्योदय उपचार योजना
  • मुख्यमंत्री गांव की बेटी योजना
  • मुख्यमंत्री प्रतिभा किरण योजना
  • विक्रमादित्य नि:शुल्क शिक्षा योजना
  • मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना
  • मुख्यमंत्री खाद्यान्न योजना
  • मुख्यमंत्री पेयजल योजना

ये योजनाएं बची रह सकती हैं

  • लाड़ली लक्ष्मी योजना
  • मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन एवं कौशल्य योजना
  • यंग प्रोफेशनल एंड डेवलपमेंट प्रोग्राम
  • मुख्यमंत्री मजदूर सुरक्षा योजना
  • मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना
  • मुख्यमंत्री कन्यादान योजना
  • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना
  • मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना
  • मुख्यमंत्री नि:शुल्क पैथॉलॉजी जांच योजना
  • मुख्यमंत्री बीमारी सहायता योजना
  • मुख्यमंत्री फ्री साइकिल वितरण योजना
  • मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना।

वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप जोशी
की फेसबुक वॉल से साभार

Spread the love

इंदौर