कावड़ यात्रा को देखते हुए इंदौर-खण्डवा मार्ग पर भारी वाहन प्रतिबंधित, कलेक्टर द्वाराआदेश जारी

इंदौर। श्रावण मास में इंदौर-खण्डवा मार्ग पर धार्मिक कावड़ यात्रा होने के कारण पैदल चलने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने जनहित में भारी वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित कर दी है। ये वाहन डायवर्टेड रोड़ से चलेंगे।

सार्वजनिक सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए केन्द्रीय मोटरयान अधिनियम 1988 की धारा 115 तथा केन्द्रीय मोटरयान नियम 1994 के नियम 215 के अन्तर्गत प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए इंदौर से खण्डवा वाले मार्ग पर संचालित हैवी गुड्स वाहनों का रूट परिवर्तन करने का आदेश जारी किया है।

इस रूट पर चलने वाले हैवी वाहन प्रात: 8 बजे से रात्रि 9 बजे तक इंदौर तेजाजीनगर से डायवर्ट रूट राऊ-महू मार्ग से संचालित होंगे।

जिला सड़क सुरक्षा समिति की 10 जुलाई 2019 को सम्पन्न हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि उक्त मार्ग पर धार्मिक कावड़ यात्रा होने से श्रद्धालुओं को असुविधा न हो, इसलिये इंदौर-खण्डवा मार्ग पर चलने वाले भारी वाहनों का रूट परिवर्तन किया जायेगा।

इन भारी वाहनों को रहेगी छूट

दुग्ध वाहन, नगर निगम की स्वास्थ्य सेवाओं में लगे वाहन, पुलिस वाहन, फायर ब्रिागेड, पानी टैंकर, आर्मी के वाहन, विद्युत मंडल के कार्य में संलग्न वाहन, एलपीजी/पेट्रोलियम पदार्थ वाहन, कृषि उपज मण्डी में सब्जी ले जाने वाले वाहन तथा यात्री बसें को उक्त प्रतिबंधित आदेश से मुक्त रखा गया है।

यह आदेश 15 अगस्त 2019 तक प्रभावशील होगा।

Spread the love

इंदौर