10 का पॉपकॉर्न 300, चाय 150 में बिक रही मल्टी फ्लेक्स में खुलेआम लूट पर जनहित याचिका दायर

आपके न्यूज पोर्टल तेज़ समाचार ने भी उठाया था मुद्दा
इंदौर। शहर के तमाम मल्टीफ्लेक्स की कैंटीन में दर्शकों के साथ खुलेआम हो रही लूट का मामला हाई कोर्ट पहुंचा है। इसे लेकर जनहित याचिका दायर की गई है जिसमे इस लूट पर रोक लगाने की गुहार की गई है।

यह जनहित याचिका एडवोकेट आयुष पांडे द्वारा लगाई गई है। इसमें याचिका के साथ कुछ स्थानीय मल्टीफ्लेक्स की रेट लिस्ट भी लगाई है जिसमे दर्शाया गया है कि किस तरह जो पॉपकॉर्न बाज़ार में मात्र 10-15 रुपये में मिलता है वह ढाई सौ से तीन सौ और चाय-कॉफी 150 रुपये तक मे बिक रही है। यही हाल अन्य खाद्य सामग्री की है जबकि नियमानुसार इस तरह मनमाने तरीके से खाद्य सामग्री नहीं बची जा सकती।

इन मल्टीफ्लेक्स मे एक ओर दर्शकों को बाहर से खाद्य सामग्री तो दूर पानी की बोतल तक नहीं लाने दी जाती है दूसरी ओर इस तरह खुलेआम लूटा जा रहा हैं। याचिका में मप्र सरकार के सम्बन्धित विभागों को पक्षकार बनाया गया है।

इस पर सम्भवतः सुनवाई आगामी सप्ताह में होगी।गौरतलब है कि आपके न्यूज पोर्टल तेज़ समाचार ने भी इस मुद्दे को गत 28 जून 2018 को प्रमुखता से उठाया था। इसमे कहा था कि पुलिस व प्रशासन से लेकर जन प्रतिनिधि तक इस खुली लूट को लेकर मौन है।

अनेक ऐसे मामले
में धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाती है लेकिन इस मामले
में कुछ नहीं किया जा रहा। नतीजतन आम आदमी लुटने को मजबूर है।

Spread the love

इंदौर