Jan 24 2019 /
12:13 PM

इंदौर में दृश्यम फ़िल्म देखकर हुई थी ट्विंकल की हत्या, भाजपा का पूर्व पार्षद बेटों के साथ गिरफ्तार

इंदौर। इंदौर के चर्चित ट्विंकल डागरे मामले का शनिवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। फिल्म दृश्यम देख कर इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया था।

ट्विंकल की हत्या में पूर्व भाजपा पार्षद जगदीश करोसिया और उसके तीन बेटे की भूमिका थी। उक्त फिल्म देखने के बाद उन्होंने वारदात को अंजाम दिया था।
डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा के अनुसार मामले में आरोपी जगदीश करोतिया, अजय करोतिया, विनय करोतिया, विजय करोतिया और नीलेश कश्यप को गिरफ्तार किया गया है।

ट्विंकल व जगदीश शादी करना चाहते, जिसे लेकर बेटों में आक्रोश था। यही गुस्सा ट्विंकल की मौत का कारण बना। इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र में 16 अक्टूबर 2016 को 20 वर्षीय ट्विंकल डागरे नाश्ता लेने का कहकर घर से निकली थी।

यहीं से आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया था। वारदात को अंजाम देने के पहले आरोपियों ने फिल्म दृश्यम देखी थी और फिर ट्विंकल की हत्या की थी। आरोपी अपहरण कर ट्विंकल को एमआर-10 स्थित निर्वाणा गार्डन के पीछे एक मैदान में ले गए और हत्या कर दी।

अगले दिन एक नेता का कुत्ता बताकर ट्विंकल की लाश को कार में सांवेर रोड स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में अगरबत्ती फैक्टरी के पास ले जाकर आग के हवाले कर दिया और अवशेष को नाले में बहा दिया था। पुलिस को जलाए गए स्थान से ट्विंकल की बिछिया, ब्रेसलेट, कपड़े सहित कुछ अन्य सामान मिला है।

जिसे जब्त कर पुलिस जांच के लिए भेजेगी। पुलिस ने वह कार और बाइक भी जब्त कर ली है। आरोपी जगदीश के नौकर से पूछताछ में मिले सुराग के आधार पर पुलिस ने आरोपी अजय से सख्ती से पूछताछ की तो मामले की सारी कड़ियां खुल गईं।

 

ट्विंकल की माँ का हंगामा

गिरफ्तारी के बाद मामले के खुलासे के लिए पुलिस आराेपियों को डीआईजी ऑफिस लेकर पहुंची। यहां ट्विंकल की माँ व अन्य ने आरोंपियों को देखते ही हंगामा शुरू कर दिया। ये आरोपियों को फांसी देने पर अड़े हुए थे। हंगामें को देखते हुए पुलिस सभी आरोपियों को पिछले दरवाजे से लेकर बाहर निकली।

लोकस्वामी ने किया था खुलासा

इस पूरे मामले में इंदौर के सांध्य दैनिक लोकस्वामी द्वारा लम्बे समय से लगातार खुलासे किए जा रहे थे और भाजपा नेता जगदीश करोतिया व उसके बेटों को लेकर खबरें छापी जा रही थी। आज अंततः पुलिस ने आधिकारिक तौर पर उक्त हत्याकांड की वही कहानी बताई। इस हत्याकांड पर आज लोकस्वामी ने विशेष कवरेज भी किया, देखें लोकस्वामी का फ्रंट पेज-

आरोपी रिमांड पर

पुलिस ने आरोपियों को शनिवार शाम जिला कोर्ट में पेश किया। आरोपियों की ओर से सीनियर एडवोकेट अविनाश सिरपुरकर सीमा शर्मा की ओर से कोर्ट को बताया गया कि जगदीश करोतिया का स्वास्थ ठीक नहीं है, अतः उसे मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए। इस संबंध में कोर्ट ने पर्याप्त मेडिकल उपलब्ध कराने के निर्देश के साथ जगदीश को 14 और बाकी को 16 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर सुपुर्द किया।

Spread the love

इंदौर