12 नवम्बर को उसकी शादी थी, जेब में फूटी कौड़ी नही थी, इंदौर में अकेली वृद्धा की हत्या कर लाखों की लूट कर दी, आरोपी मुंबई से गिरफ्तार

इंदौर। अन्नपूर्णा क्षेत्र में हुए वृद्धा प्रेमा झमटानी के अंधे कत्ल का पुलिस ने पर्दाफाश कर आरोपी को मुंबई के बांद्रा से गिरफ्तार कर लिया है। 12 नवम्बर को उसकी शादी थी, जेब में फूटी कौड़ी नही थी, इसके चलते पड़ोस में अकेली रहने वाली वृद्धा की हत्या कर लाखों की लूट को अंजाम दिया।
आरोपी का नाम दीपेश पिता ताराचन्द्र गंगवानी उम्र 24 साल निवासी क्रांति कृपलानी इंदौर है।


उसके पास से लूटे गये 14 नग सोने के कंगन , 4 नग चेन सोने की, 11 नग सोने की अंगुठी, 1 मंगल सूत्र सोने का, तीन लाकेट सोने के, दो नग कान के टाप्स नगदी 67630 रूपये तथा मोबाइल सहित कुल 8 लाख से अधिक का माल जब्त कर लिया गया।


उल्लेखनीय है कि गत 12 अक्टूबर की रात करीब 12 बजे थाना अन्नपूर्णा में फोन से सूचना मिली थी कि क्रांति कृपलानी नगर में प्रेमा झमटानी की लाश उनके कमरे में पडी है। मामला हत्या का निकला। पता चला कि मृतिका के घर के पास ही रहने वाला दीपेश घटना के बाद से घर से फरार है। खोजबीन के बाद बान्द्रा (मुम्बई) स्टेशन के बाहर आरोपी दीपेश को पकड़ने मे सफलता मिली।


आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह इस समय काफी कर्जे में हो गया था तथा 12 नवम्बर को उसकी शादी भी थी किन्तु जेब में फूटी कौड़ी नही थी किस्त न भरने से मोटर सायकल भी खिच गयी थी। रातो रात पैसो की कमी को दूर करने के लिये उसने घर के सामने अकेले रहनेवाली प्रेमा झमटानी की करीब 10 दिन से रैकी शुरू की। मृतिका सुबह 5 बजे उठकर जाती थी तथा तैयार होकर सत्संग में जाती थी।

आरोपी यह समय उपयुक्त पाकर मृतिका प्रेमा के घर दिनांक 12 अक्टूबर सुबह करीब 04.30 बजे घुस गया था तथा मृतिका के मुह में कपड़ा लगाकर बेहोश कर दिया फिर मुह में टेप लगा दिया। फिर भी जिंदा होने से गला घोटकर हत्या कर दी तथा उसके हाथ के कंगन तथा कान के टाप्स उतारकर रख लिये। फिर घर का पुरा सामान अलमारी, बैड आदि खोलकर 14 नग सोने के कंगन , 4 नग चेन सोने की , 11 नग सोने की अंगुठी , 1 मंगल सूत्र सोने का , तीन लाकेट सोने के , दो नग कान के टाप्स नगदी 67630 रूपये तथा मोबाइल लूटकर अपने घर के पलंग में छुपा दिया जो पुलिस द्वारा जप्त कर लिया गया।


इस केस को सुलझाने में एडीजी वरूण कपूर, एसएसपी रूचिवर्धन मिश्र व पुलिस अधीक्षक पश्चिम अवधेश कुमार गोस्वामी, एएसपी मनीष खत्री के निर्देशन में सीएसपी पुनीत गहलोद, थाना प्रभारी अन्नपुर्णा सतीश द्विवेदी, थाना प्रभारी राजेंद्र नगर सुनील शर्मा, निरी. विजय सिसोदिया, उप निरी तोसिफ अली, उप निरी नीलमणि ठाकुर , उप निरी अंकित शर्मा , उप निरी. अर्जून सिंह, प्र आर मंगल सिंह, प्र आर. ब्रजभूषण , प्र आर उदयभान , आर जोगेश , आर अभिषेक पंवार , आर सुनील, आर धर्मेन्द्र , म.आर. सरीता , आर विपिन , आर कृष्णचन्द्र , आर. विनोद शर्मा , आर तन्मय आर शशांक आरक्षक सुदीप की भूमिका रही है। एसएसपी ने पुलिस टीम को 20000/- रूपये के इनाम से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।

Spread the love

इंदौर