PSC दिव्यांग के लिए विषयवार परीक्षा क्यों नही ले रहा, हाई कोर्ट का नोटिस

इंदौर। इंदौर हाइकोर्ट ने गुरुवार को एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए दिव्यांगों की परीक्षा मामले में नोटिस जारी कर PSC से एक सप्ताह में जवाब मांगा है।

जस्टिस पीके जायसवाल और जस्टिस अशोक कुमार जोशी की डिवीजन बेंच ने आनंद सर्विस सोसायटी मूक बधिर संस्था की ओर से ज्ञानेन्द्र पुरोहित द्वारा दायर जनहित याचिका में उक्त नोटिस जारी किए।

याचिका में दृष्टिहीन मूक बधिर बच्चों के स्कूल के लिए व्याख्याता पद पर मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (psc)-के माध्यम से हो रही भर्ती विषयवार नही होने के कारण का मुद्दा उठाया गया है।

संस्था की और से वरिष्ठ अभिभाषक पीयूष माथुर और अधिवक्ता आशीष चौबे ने पैरवी की। इसमे कहा गया कि जब सामान्य बच्चों के व्याख्यता की भर्ती विषयवार होती है तो दिव्यांग बच्चों के व्याख्याता की क्यो नही? इस तर्क के आधार पर कोर्ट ने नोटिस जारी करने के साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि यदि इन पदों पर PSC कोई नियुक्ति करता है तो वह इस याचिका के अंतिम निराकरण के अधीन होगी।

Spread the love

इंदौर